योगी सरकार हज हाउस को Corona मरीजों के लिए 500 बेड का आइसोलेशन सेंटर बनाएगी

चीन से कोरोना वायरस का संक्रमण कई देशों समेत अब भारत में भी पहुंच चुका है। कोरोना वायरस से हजारों की संख्या में लोग काल के कपाल में समा गये हैं। देश में खतरनाक करोना वायरस के मामले लगातार बढ़ रहे हैं। उत्तर प्रदेश की योगी आदित्यनाथ सरकार कोरोना वायरस (Coronavirus) के इसी खतरे से निपटने के लिए हर स्तर पर प्रयास कर रही है। उत्तर प्रदेश स्वास्थ्य विभाग ने गाजियाबाद के अर्थला में बने आलीशना आला हजरत हज हाउस को 500 बेड के आइसोलेशन सेंटर में बदलने का निर्णय लिया है। इस आइसोलेशन सेंटर में कोरोना वायरस से संक्रमित या ग्रसित मरीजों को रखा जाएगा। आइसोलेशन सेंटर बनाने से पहले उत्तर प्रदेश प्रशासन के अधिकारियों के अलावा अल्पसंख्यक बोर्ड के अधिकारियों ने भी हज हाउस का निरीक्षण किया।

Ghaziabad_Haj_House

तीन से चार दिनों में हज हाउस बनेगा 500 बेड का आइसोलेशन सेंटर

गाजियाबाद के इस हज हाउस में कई बड़े कमरे हैं और मरीजों की आवश्यकता की सभी मूलभूत सुविधाएं मौजूद हैं। इसलिए प्रशासन और स्वास्थ्य विभाग ने इस हज हाउस को आइसोलेशन सेंटर बनाने का फैसला किया है। इस 500 बेड के आइसोलेशन सेंटर में गाजियाबाद जिला अस्पताल के डॉक्टरों की तैनाती की जाएगी। इस हज हाउस को अगले तीन से चार दिनों के अंदर कोरोना आइसोलेशन सेंटर में तब्दील कर दिया जाएगा।

Akhilesh_yadav_inaugurated_the_newly_constructed_Haj_House

अखिलेश सरकार में बना था यह हज हाउस

गाजियाबाद में इस हज हाउस का निर्माण समाजवादी पार्टी की सरकार के दौरान कराया गया था। इस हज हाउस को आजम खान के ड्रीम प्रोजक्ट्स में से एक माना जाता है। लगभग 54 करोड़ रुपये की लागत से बने इस हज हाउस में मुस्लिम समाज के लोग जब सऊदी अरब हज करने जाते हैं तो यहीं एकत्र होते हैं। यहां से सब वीजा लेकर आगे के लिए रवाना होते हैं। 2018 में योगी सरकार ने इसे सील कर दिया था।

गाजियाबाद के जिलाधिकारी शैलेंद्र कुमार ने कहा कि उत्तर प्रदेश सरकार के आदेश के बाद ही हज हाउस को आइसोलेशन सेंटर में बदलने का फैसला किया गया है। कोरोना वायरस के संदिग्धों को 14 से 28 दिन तक इस आइसोलेशन सेंटर में ऑब्जरवेशन में रखा जाएगा। किसी मरीज के कोरोना पॉजिटिव पाए जाने के बाद उसे इलाज के लिए दिल्ली भेजा जाएगा।

भारत में अब तक 31 केस सामने आए

चीन के वुहान से निकला कोरोना वायरस की दहशत आज पूरी दुनिया में है और इसके संक्रमण को फैलने से रोकने के लिए हरसंभव उपाय किये जा रहे हैं। इसके बावजूद विश्वभर में इससे 3,200 लोगों की जान जा चुकी है और 90,000 से अधिक लोग इससे संक्रमित हो चुके हैं।

कोरोना ने चीन के बाद अब भारत में अपना कहर बरपाना शुरू कर दिया है, जहां बुधवार को इससे संक्रमित लोगों की संख्या बढ़कर 31 हो गई। संक्रमित लोगों में 16 इतालवी पर्यटक हैं। इसके अलावा तीन मामले केरल से सामने आये थे जिन्हें अस्पताल से इलाज के बाद छुट्टी मिल चुकी है।