लॉकडाउन से हटेगा ताला?

  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

देश में कोरोना वायरस से ठीक होने वालों की संख्या भी तेजी से बढ़ रही है। सबसे अच्छी बात यह है, कि देश के 739 जिलों में से 300 अब तक कोरोना से अछूते हैं। इसके अलावा 300 अन्य ऐसे भी जिले हैं, जहां कोरोना के मामले बहुत कम हैं, लेकिन इसके बाद भी एक सवाल सबके मन में है, कि क्या 3 मई को लॉकडाउन खत्म होगा या नही?

देश में कोरोना वायरस संक्रमण के मामले 31 हजार को पार कर चुके हैं, जबकि मौत का आंकड़ा भी अब 1000 से ऊपर पहुंच चुका है। हालांकि, अच्छी बात यह है कि अब तक 7,696 मरीज इलाज के बाद पूरी तरह स्वस्थ भी हो चुके हैं। कोरोना के खिलाफ लड़ाई में मरीजों के ठीक होने की रफ्तार बढ़ने के साथ-साथ अच्छी खबर यह भी है कि देश के 300 जिले अबतक कोरोना संक्रमण से पूरी तरह मुक्त रहे हैं। लेकिन क्या इतने पर लॉकडाउन खोल दिया जाना चाहिये ये सवाल अब सब कोई पूछ रहे है। हालाकि इस सवाल का जवाब तो सरकार के पास है लेकिन अनुमान यही लगाया जा रहा है कि लॉकडाउन पूरी तरह से अभी भारत में हटने वाला नही है।

सीएम और पीएम की बैठक में कुछ ऐसा ही मिला संकेत

 

जिस तरह से कोरोना से भारत सरकार निपट रही है, उसका ही असर है कि इस जंग में हम आधी जंग जीत चुके है। बस कोरोना को हराकर जीत का परचम ही लहराना शेष रह गया है, लेकिन इसके लिये अभी थोड़ा इंतजार हमे और करना होगा और कुछ इसी तरह का संकेत पीएम मोदी जी के साथ हुई बैठक में भी देखने को मिला है। ज्यादातर मुख्यमंत्री अभी लॉकडाउन को पूरी तरह से हटाने के पक्ष में नही दिखे।

129 जिले बने परेशानी का सबब

वैसे तो लॉकडाउन से कोरोना पर नकेल कसी गई है जिसका असर है कि विश्व में जिस तरह की तबाही मची वैसे देश में नही मची लेकिन इसके बाद भी देश में 129 जिले ऐसे हैं, जहां कोरोना के हॉटस्पॉट्स हैं। जो सरकार के लिये सिरदर्द बने हुए है। यहां गौर करने वाली बात ये है कि, ये वो जिले है जहां तब्लीगी जमान के जरिये मामले आज भी मिल रहे है। यहां रहने वाले अभी भी लॉकडाउन के नियम को तोड़ने में भी लगे है। जिसका असर ये हो रहा है कि लॉकडाउन की अवधि बढ़ाई जा सकती है।

कुछ जिलों को लॉकडाउन से राहत?

वैसे जानकारो की माने तो लॉकडाउन को लेकर कुछ जिले और प्रदेश ऐसे हो सकते है जहां छूट के साथ लॉकडाउन हटाया जा सकता है। लेकिन वहां पर भी कयास यही लगाया जा रहा है कि स्कूल, सिनेमाघर, या पर्यटन के स्थान नही खोले जायेंगे। लेकिन करोबारियो को कई तरह की राहत जरूर मिल सकती है। लॉकडाउन 2 में ही गृह मंत्रालय ने नई गाइडलाइन जारी करके काफी छोटे दुकानदारों को राहत दी थी ऐसे में कयास यही है कि कुछ और दुकानदारों को भी राहत दी जा सकती है। 

फिलहाल सवाल बहुत है,जिनका जवाब सिर्फ सरकार के पास है। लेकिन जनता को पूरा विश्वास है कि मोदी जी जो फैसला लेगे वो देशहित का ही होगा। जिसका प्रमाण अभी तक देखने को मिला है।


  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •