जब खुद देश के प्रधानमंत्री शामिल हुए 1.75 लाख गरीबों के गृहप्रवेश में

जब से केंद्र की सत्ता में मोदी जी की सरकार आई है, तब से देश में आम जन के सपने हकीकत में तब्दील हो रहे है। इसका जीता जागता उदाहरण पीएम आवास योजना है। जिसके तहत गरीब लोगों के अपने घर का ख्वाब ही नही पूरा हो रहा है, बल्कि सम्मान भी दोगुना हो रहा है। क्योकि पहली बार ऐसी सरकार आई है जो मकान ही नही साथ ही साथ वो सभी सुविधा भी मोहइया करवा रही है जो एक घर में होना चाहिए।

पहली बार 1.75 लाख घरो के गृहप्रदेश में कोई पीएम हुआ शामिल

वैसे देश में कई पीएम हुए, जो ये कहते हुए दिखे कि वो अपने राज में गरीबों को पक्का घर देंगे, लेकिन बस वो कहते ही रह गये। आलम ये हुआ कि जब कोई नेता गरीबों को पक्का घर देने की बात करा था, तो उसे सिर्फ चुनावी जुमला बोला जाता था। लेकिन नमो के पीएम बनते ही आज वो सब कुछ हकीकत में हो रहा है। जिसे देश के गरीब सिर्फ ख्वाबों में ही देखते थे। मतलब अपना घर का सपना पीएम मोदी ने सत्ता में आते ही गरीबों को घर देने का वायदा किया जिसे उन्होने पूरी इमानदारी से निभाया भी। तभी तो शायद ये अपने आप में एक इतिहास होगा कि एक दिन में किसी पीएम ने 1.75 लाख घरों के गृहप्रवेश में हिस्सा लिया हो। इस समारोह को देखकर ये यकीन होता है कि पीएम मोदी ही वो नेता है जो सच में 2022 तक सभी गरीब को पक्का मकान देकर दिखायेंगे। पीएम आवास योजना के तहत मोदी जी ने देशभर में 2 करोड़ घर बनाने का वायदा किया है। इतना ही नही उन्होने कोरोना काल में भी इस योजना की स्पीड तेज होने पर सभी की तारीफ की और आपदा को अवसर में बदलने का एक उदाहरण भी बताया।

दोस्ताना अंदाज में किया लाभार्थियों से संवाद

पीएम मोदी की एक सबसे अच्छी खूबी ये है कि वो देशवासियों के सुख में अपना सुख खोज लेते है। उनके दुख में वो खुद भागीदार भी हो जाते है, वो इसलिये क्योकि मोदी जी देश के हर नागरिक को अपना परिवार समझते है, जिसकी झलक उनकी बातो में साफ साफ दिखता है। जब पीएम मोदी से लाभार्थी नरेंद्र ने बताया कि कच्चे मकान के चलते सांप ने उनकी बेटी को काट लिया था जिससे बच्ची की मौत हो गई थी। इस बात को सुकर पीएम मोदी काफी दुखी दिखे, हालांकि बाद में उन्होने बोला कि हमारी इस योजना का लक्ष्य हमारी बहनों का सशक्तिकरण करना भी है। वही जब एक महिला ने उनसे उनके घर आकर खाना खाने का निवेदन रखा तो पीएम ने तुरंत उसे स्वीकार लिया और बोले कि वो जरूर आपके घर आकर खाना खाएगे। इसके साथ साथ कई ऐसे मौके बातचीत के दौरान दिखे जब लगा कि देश का पीएम नही बल्कि घर का कोई बड़ा सदस्य ही बात कर रहा हो।

पीएम मोदी का देशवासियों के साथ यही अपनापन ही तो आज देश को नई दिशा दे रहा है। या यूं बोले कि देश आत्मनिर्भर बन रहा है। क्योकि पीएम मोदी सिर्फ योजना बनाते है लेकिन उसे सफल बनाने के लिये सरकारी बाबू के साथ साथ देश का हर नागरिक जुट जाता है तभी आज हर योजना वक्त के साथ पूरी होती है। जैसे पीएम आवास योजना गरीबों के मकान देने में सफल हो रही है।