‘स्वयंपूर्ण योजना’ के लाभार्थी से जब पीएम ने बोला आप भी मेरी तरह चायवाले हैं

एक दौर था जब जनता के बीच देश के पीएम कुछ खास समारोह में ही दिखाई देते ते। लेकिन पिछले 7 सालों में पीएम मोदी तो जनता से कैसे रूबरू हो सके इसके जुगत निकालते रहते है। तभी तो कोरोना महामारी के पहले वो आमजन के बीच में जाते रहते थे लेकिन अब ऐसा थोड़ा कम हो रहा है इसलिये वो घर में बैठकर विडियो कांफ्रेंसिंग के जरिये ही जुड़े रहते है। इसी क्रम में पीएम मोदी ने आज गोवा के ‘आत्मनिर्भर भारत स्वयंपूर्ण योजना’ के लाभार्थियों और हितधारकों से संवाद किया।

जब पीएम ने बोला आप भी हमारी तरह चाये वाले हैं

गोवा के ‘आत्मनिर्भर भारत स्वयंपूर्ण योजना’ के लाभार्थियों में से एक दिव्यांग रुखी अहमद से बात करते हुए पीएम ने जब उनका परिचय पूछा तो उन्होने बताया कि वो चाय बेचते है तो पीएम मोदी ने तुरंत बोला कि आप भी उनकी तरह चाय वाले हैं ये सुनकर अहमद फूले नहीं समाये खुद पीएम ने उनकी तारीफ करते हुए बोला कि उनकी लगन से ही वो आज आगे बढ़ रहे है। सरकार की योजना भी  ऐसे ही लोगों के काम आ रही है ये सुनकर अच्छा लगता है।

गोवा यानी टूरिज्म- पीएम मोदी

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि जब सरकार का साथ और जब जनता का परिश्रम मिलता है तो कैसे परिश्रम आता है, कैसे आत्मविश्वास आता है ये हम सभी ने स्वयंपूर्ण गोवा के लाभार्थियों से चर्चा के दौरान अनुभव किया। गोवा यानी आनंद, गोवा यानी प्रकृति, गोवा यानी टूरिज्म। लेकिन आज मैं ये भी कहूंगा कि गोवा यानी विकास का नया मॉडल, गोवा यानी सामूहिक प्रयासों का प्रतिबिंब, गोवा यानी पंचायत से लेकर प्रशासन तक विकास के लिए एकजुटता है।

महिलाओं को मिला सम्मान- पीएम मोदी

पीएम मोदी ने कहा कि महिलाओं की सुविधा और सम्मान के लिए जो योजनाएं केंद्र सरकार ने बनाई हैं, उनको गोवा सफलता से जमीन पर उतार भी रहा है और उनको विस्तार भी दे रहा है। चाहे टॉयलेट्स हों, उज्जवला गैस कनेक्शन हों या फिर जनधन बैंक अकाउंट हों, गोवा ने महिलाओं को ये सुविधाएं देने में बेहतरीन काम किया है। मेरे मित्र स्वर्गीय मनोहर मनोहर पर्रिकर ने गोवा को तेज विकास के जिस विश्वास के साथ आगे बढ़ाया, उसको प्रमोद सावंत की टीम पूरी ईमानदारी से नई बुलंदियां दे रही है। आज गोवा नए आत्मविश्वास से आगे बढ़ रहा है।

इतना ही नहीं पीएम मोदी ने बताया कि गोवा के विकास के लिये सरकार हर जरूरतो को पूरा कर रही है। इसी लिये तो पहले की सरकारों की अपेक्षा सरकार गोवा को 5 गुना ज्यादा फंड मोहइया करवा रही है जिससे विकास तेजी से हो और गोवा भारत का सबसे बेहतर राज्य बनकर उभरे।