जर्मनी में लगे ‘मोदी वन्स मोर के नारे’ तो मोदी बोले देश अब जोखिम लेने से नहीं डरता

मंच पर मोदी हों तो दर्शकों की उत्सुकता देखते ही बनती है। देश में तो ऐसे नजारे आम हैं लेकिन परदेस में भी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का जलवा कुछ कम नहीं। बर्लिन में कल जब प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भारतीय समुदाय के बीच पहुंचे तो लोगों का जोश देखने लायक था। जय श्री राम की गूंज, मोदी-मोदी के नारे के बीच जर्मनी में बसे भारतीयों ने दिल खोलकर मोदी का वेलकम किया।

जब लगेमोदी वन्स मोरके नारे

प्रवासी भारतीयों के एक कार्यक्रम में जैसे ही पीएम मोदी मंच पर पहुंचे वैसे ही जोर शोर से लोगों ने मोदी वन्स मोर के नारे लगाये और बोला कि 2024 में एक बार फिर मोदी सरकार, इतना ही नही मोदी जी भाषण देने के लिये माइक के पास पहुंचे वैसे ही लोग अपनी जगह पर खड़े हो गए थे। सबने कैमरे निकाल लिए थे। कुछ ने रिकॉर्डिंग शुरू कर दी थी। मोदी के मंच पर आते ही वंदे मातरम के नारे लगने लगे। लोगों ने तस्वीरें क्लिक करनी शुरू कर दी। वे उस ऐतिहासिक पल को हमेशा के लिए संजोकर रख लेना चाहते थे। महिलाओं के चेहरे पर पीएम नरेंद्र मोदी को देखने की खुशी झलक रही थी। सभी चेहरे खिलखिला रहे थे। तिरंगा झंडा लिए भारतीय भी अपनी पारंपरिक पोशाक में आए थे। कुछ लोगों ने मोदी की तरह सदरी पहन रखी थी तो ज्यादातर महिलाएं साड़ी में आई थीं। भारतीयों की इस खुशी को देखकर वहां मौजूद कुछ जर्मन भी आश्चर्यचकित होकर सब देख रहे थे। राष्ट्रगान के बाद कार्यक्रम की औपचारिक शुरुआत हुई और भारत माता की जय के नारे गूंजने लगे। उस पल ऐसा लग रहा था जैसे यह जर्मनी नहीं अपना देश हो।

नया भारत जोखिम लेने के लिए तैयार है: मोदी

पीएम मोदी के एक घंटे का संबोधन में  कहा, ‘नया भारत अब एक सुरक्षित भविष्य के बारे में नहीं सोचता है, बल्कि जोखिम लेने के लिए तैयार है, नया करने और विकास को बढ़ावा देने के लिए तैयार है। भारत में 2014 के आसपास 200-400 स्टार्ट-अप थे, आज 68,000 स्टार्ट अप और दर्जनों यूनिकॉर्न हैं…जिनमें से कुछ पहले ही 10 अरब डॉलर के आकलन के साथ डेका-कॉर्न बन गए हैं।’ प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि ऐसे समय में, जब दुनिया गेहूं की कमी से जूझ रही है, भारत के किसान दुनिया का पेट भरने के लिए आगे आए हैं। उन्होंने कहा, ‘जब भी मानवता संकट का सामना करती है, भारत एक समाधान के साथ आगे आता है। यह नया भारत है, यही नये भारत की ताकत है।’ तो वही उन्होंने तंज भी कसा कि अब देश में कोई भी पंजा देश के धन को नही लूट रहा है।

पीएम मोदी ने साफ किया कि ये सब देश में इसलिये हो पाया क्योंकि युवा और महत्वाकांक्षी भारत ने तेजी से विकास हासिल करने के लिए राजनीतिक स्थिरता की जरूरत को समझा और महज एक बटन दबाकर तीन दशकों की अस्थिरता खत्म कर दी। जिससे देश तेजी से विकास के रास्ते पर चल पड़ा है।

Leave a Reply