बजट 2022 में देश की जनता को बजट से क्या मिला? आप खुद जान लीजिए

1 घंटे 31 मिनट में वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने देश का आतमनिर्भर बजट पेश किया। इस बजट में मोदी सरकार ने कई बड़ी राहत देश की जनता को दी तो दूसरी तरफ कई नये व्यवस्था लागू करने की घोषणा की जिससे राष्ट्रनिर्माण में तेजी से काम किया जा सके।

क्या-क्या होगा सस्ता?

इस बार चमड़ा, कपड़ा, खेती का सामान, पैकेजिंग के डिब्बे, मोबाइल फोन चार्जर और जेम्स एंड ज्वैलरी सस्ते होंगे। जेम्स एंड ज्वैलरी पर कस्टम ड्यूटी को घटाकर 5 फीसदी कर दिया गया है। कट और पॉलिश्ड डायमंड पर भी कस्टम ड्यूटी घटाकर 5 फीसदी कर दी गई है। एमएसएमई को मदद मुहैया कराने के लिए स्टील स्क्रैप पर कस्टम ड्यूटी छूट को 1 साल के लिए बढ़ा दिया गया है। मेंथा ऑयल पर कस्टम ड्यूटी को घटाया गया। मोबाइल फोन के चार्जर, ट्रांसफॉर्मर आदि पर कस्टम ड्यूटी में छूट दी गई है, ताकि घरेलू मैन्युफैक्टरिंग को बढ़ावा दिया जा सके।

बजट में क्या क्या नया ?

इस बार बजट में सरकार ने नई व्यवस्था करने की भी घोषणा की जिससे देश में डिजिटल इंडिया का सपना सच होगा। सरकार ने ऐलान किया की 5 जी सेवा शुरू की जायेगी तो आरबीआई डिजिटल करेन्सी लॉन्च करेंगी। इतना ही नही देश में डिजिटल यूनिवर्सिटी खुली जायेगी। वही डाकघरों में एटीएम की सुविधा दी जायेगी। साथ ही पोस्ट ऑफिस में भी ऑनलाइन ट्रांसफर की सुविधा शुरू होगी। इशके साथ साथ पीएम ई-विधा चैनल की संख्या बढ़ाई जायेगी और पासपोर्ट में चिप लगाये जायेगे जिससे लोगों को राहत मिल सके।

इसके साथ साथ 400 नई वंदे भारत ट्रेनों का ऐलान किया गया है तो 100 कार्गो टर्मिनल्स भी अगले तीन वर्षों में तैयार करने का खाका खीचा गया है। अगले 100 साल के लिए ढांचागत विकास की रूपरेखा पर काम किया जा रहा है। एक साल में 25 हजार किमी हाइवे बनेगा। हाइवे विस्तार पर 20 हजार करोड़ रुपये का खर्च किया जाएगा। वित्त वर्ष 2022-23 में 8 नए रोपवे का ऑर्डर दिया जाएगा। छोटे और लघु उद्योगों को 2 लाख करोड़ रुपये की मदद दी जाएगी तो कॉरपोरेट टैक्स को घटाया गया है जिससे देश में तेजी से निवेश और रोजगार बढ़ सके। इतना ही नही किसानों का भी बजट में खास ध्यान रखा गया है। किसानों के खाते में MSP के जरिए 2.37 करोड़ रुपये सरकार ने भेजे हैं। साथ ही उन्होंने कहा कि सरकार की ओर से रसायन और कीटनाशक मुक्त खेती का प्रसार बढ़ाने पर जोर दिया जा रहा है। आर्गेनिक खेती करने वाले किसानों को प्रोत्साहन दिया जाएगा।

कोरोना काल से तीन साल से चल रही जंग के बीच आये इस बजट में सरकार ने सभी सेक्टर में विकास के लिए एक खाका खीचा है जिससे देश का विकास तेजी से हो सके।