व्लादिवोस्तोक बना मोदी और पुतिन की दोस्ती का गवाह

 Prime Minister Narendra Modi and Russian President Vladimir Putin

भारत के प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी अपने दो दिवसीय दौरे पर फिलहाल रूस में हैं जहाँ वो ईस्टर्न इकोनॉमिक फोरम व दोनों देशों के बीच 20वें वार्षिक शिखर सम्मेलन में भाग लेने के पहुंचे हैं|इस मौके पर एक बार फिर भारतीय प्रधानमंत्री मोदी और रुसी राष्ट्रपति ब्लादिमीर पुतिन की दोस्ती ने नज़ारे देखने को मिले|

आज बुधवार सुबह को पीएम मोदी ने रुसी राष्ट्रपति पुतिन से मुलाकात की| मुलाकात के बाद दोनों नेताओं ने साथ मिलकर रूस के व्लादिवोस्तोक स्थित शिप बिल्डिंग कॉम्प्लेक्स का दौरा किया| इस दौरान मोदी और पुतिन की दोस्ती का एक अलग स्वरुप देखने को मिला|

गार्ड ऑफ़ हॉनर उसके बाद खुद अगुवानी और बाद में गले लगाकर स्वागत

बुधवार को प्रातःकाल में मोदी रूस के व्लादिवोस्तोक पहुंचे थे| यहाँ पहुँचने पर उनका स्वागत पारंपरिक और विशेष गार्ड ऑफ ऑनर देकर किया गया था| मोदी की अगुआनी के लिए भारी तादाद में आप्रवासी भारतीय उनके स्वागत के लिए मौके पर मौजूद थे| इसके बाद प्रधानमंत्री मोदी शिप कॉम्प्लेक्स के दौरे के लिए लिए जब बंदरगाह पर पहुंचे तो उनके स्वागत के लिए रुसी राष्ट्रपति पुतिन पहले से उपस्थित थे| पुतिने ने गले लगाकर अपने मित्र और भारत के प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी का स्वागत किया|

Prime Minister Narendra Modi and Russian President Vladimir Putin hug at arrival

इसके बाद दोनों राष्ट्राध्यक्ष एक शिप में सवार होकर बातें करते हुए शिप बिल्डिंग कॉम्प्लेक्स पहुंचे और फिर वहां प्रदर्शन का आनंद उठाया|

गौरतलब है कि प्रधानमंत्री मोदी अपने समकक्ष राजनेताओं के साथ अपनी पर्सनल केमिस्ट्री के लिए मशहूर हैं| अपने मिलनसार स्वभाव और प्रभावशाली व्यक्तित्व से वो हर किसी को अपना मुरीद बना लेते हैं| चाहे वो अमरीकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प हों, चीनी शी जिनपिंग, इजराइल के बेंजामिन नेतन्याहू या फिर उनके खास मित्र रुसी राष्ट्रपति ब्लादिमीर पुतिन|

प्रधानमंत्री मोदी के इस दो दिवसीय दौरे में वो ईस्टर्न इकोनॉमिक फोरम व दोनों देशों के बीच 20वें वार्षिक शिखर सम्मेलन की कई बैठकों में हिस्सा लेंगे| इसके अलावा उनकी और राष्ट्रपति पुतिन की द्विपक्षीय वार्ता भी होगी| इस दौरान रक्षा, व्यापार और पर्यटन से जुड़े कई मसौदों पर हस्ताक्षर होने की उम्मीद है|