PM मोदी की अनोखी पहल, सांसदों को ऐसे काम का दिया निर्देश जिसे आम जनता भी भूल गई है

सच में पीएम मोदी क्या प्लान बना रहे है और वो क्या नया करने जा रहे हैं ये समझना बहुत मुश्किल है। मतलब साफ है कि पीएम मोदी के दिमाग में क्या चल रहा है ये सोचना बहुत कठिन है। कुछ ऐसा ही आज उनकी पार्टी के सांसद सोच रहे होंगे। क्योकि पीएम मोदी ने उन्हे कुछ ऐसा कार्य जो सोचा है जो वो सपने में भी नहीं सोच सकते थे। पीएम मोदी ने अपने आजादी के 75 साल के मौके में चलने वाले अमृत महोत्सव के तहत अपने संसदीय क्षेत्र में 75 तालाबों का निर्माण कराने का निर्देश दिया है।

पीएम मोदी का बयान, अगर सांसदों के बच्चों को टिकट ना देना पाप है तो मैंने ये  पाप किया है | PM Modi's statement, if it is a sin not to give

सांसदों को दिया विशेष टॉस्क

पीएम मोदी ने अपनी पार्टी के सांसदों के साथ बैठक करके उन्हे एक नया टास्क दिया है। पीएम मोदी ने सभी सांसदों को निर्देश दिए है कि वो अपने इलाको में आजादी के 75 साल होने पर 75 तालाब का निर्माण करवाये। बैठक को संबोधित करते हुए प्रधानमंत्री मोदी ने प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्न योजना की अवधि को 6 महीने के लिए बढ़ाने का जिक्र करते हुए कहा, ‘सरकार निचले स्तर तक गरीबों के कल्याण के लिए काम कर रही है और इसकी जानकारी सभी लोगों तक पहुंचनी चाहिए। बीजेपी सभी पूर्व प्रधानमंत्रियों के योगदान का सम्मान करती है इसलिए सरकार सभी पूर्व प्रधानमंत्रियों के योगदान को लेकर एक म्यूजियम भी बना रही है।’

सांसदों ने जताया पीएम मोदी का आभार

केंद्रीय संसदीय कार्य राज्य मंत्री अर्जुन राम मेघवाल ने कहा कि प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्न योजना की अवधि को 6 महीने के लिए बढ़ाने के फैसले को लेकर बीजेपी संसदीय दल की बैठक में सभी सांसदों ने प्रधानमंत्री मोदी का आभार जताया। वही पीएम ने संसदों को जनसेवा कैसे की जाये इसके गुण बताये वही विपक्ष के मुद्दो से पीछे भागने के बजाये उनका मुंह तोड़ जवाब देने का भी रूख अपनाया जाये। क्योंकि विपक्ष के हर झूठ को जनता के सामने पर्दाफाश करना होगा। इसके लिये सरकार के आमजन हितैशी कार्यों को जनता तक पहुंचाना होगा।

वैसे पीएम मोदी ने जिस तरह का कार्य अपने सांसदों को दिया है उससे एक तो देश में पानी की समस्या कम होगी तो दूसरी तरफ ऐसा करने से पर्यावरण भी बेहतर होगा।