स्लॉट बुक किए बिना 18 से 44 साल वालों को लगेगी वैक्सीन

अगर आप 18 से 44 साल की उम्र के हैं तो आपको कोरोना टीका लगाने में और आसानी होगी। केंद्र सरकार ने कोविन ऐप पर रजिस्ट्रेशन की सुविधा में बदलाव कर दिया है। इसके तहत अब आप सीधे टीकाकरण केंद्र पर ही रजिस्ट्रेशन करवाकर वैक्सीन डोज ले सकते हैं। हालांकि, यह सुविधा अभी सिर्फ सरकारी वैक्सीन सेंटर पर ही उपलब्ध होगी। इस प्रावधान से वैसे लाखों को लोगों को फायदा होगा जो इंटरनेट, मोबाइल, ऐप की कवायदों से बिल्कुल वाकिफ नहीं हैं।

 

कैसे मिलेगी ऑनसाइट वैक्सीन

रोजना जब लोगों को टीका देने का समय खत्म हो जाएगा या दिन के अंतिम समय में जो वैक्सीन बच जाएगी, उसे ऑनसाइट व्यवस्था के तहत लोगों को दी जाएगी, जिससे कि टीके की बर्बादी ना हो। इस नई व्यवस्था का जिक्र कोविन प्लेटफॉर्म पर किया जा रहा है। फिलहाल नई सुविधा सरकारी वैक्सीनेशन सेंटर्स पर ही होगी जहां आप खुद जाकर टीका लगवा सकते है।

Bangladesh says COVID-19 vaccines to run out in 1 week

सरकार ने क्यों बदला नियम

दरअसल, कई लोग वैक्सीन के लिए स्लॉट बुक कवाने के बाद भी टीका लगवाने के लिए सेंटर पर नहीं पहुंचते हैं और इस कारण टीकों के खराब होने की खबरें आ रही थीं। इसके बाद केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने यह फैसला लिया है। इसके अलावा ग्रामीण स्तर पर ऑनलाइन बुकिंग के बारे में जानकारी के अभाव के चलते भी लोगों को दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा था। खासकर गांव के उन लोगों को जिनके पास समार्ट फोन नहीं है या फिर वो इंटरनेट के बारे में ज्यादा नही जानते है ऐसे लोगो को ये नही पता चल पा रहा था कि वो किस दिन टीकाकरण के लिये जाये बस इसी लिये एक तरफ टीका की बर्बादी हो रही थी तो दूसरी तरफ लोगों तक वैक्सीनेशन का काम भी पूरा नही हो पा रहा था। वही इसके साथ साथ कई जगह पर वैक्सीन घोटाले की बू भी आने लगी है इसी घपले को रोकने के लियये अब सरकार ने ये बड़ा कदम उटाया है और राज्य सरकारो को इसके लिये आदेश भी दे दिया गया है कि नियम का पालन तुरंत किया जाये।

अब देखना ये होगा कि सरकार के इस आदेश के बाद वैक्सीनेशन का दौर और तेज होता है या फिर कुछ लोग सियासत के चलते सिर्फ वैक्सीनेसन नहीं है का रोना रोकर अपने प्रदेश की जनता को मझधार में ही छोड़ देंगे जिससे मामले बढ़े और उन्हे मोदी सरकार के खिलाफ अफवाह उड़ाने का मौका मिले।