इस बार लालकिले से मिल सकती है, वन नेशन वन हेल्थ कार्ड की सौगात ?

15 अगस्त बिलकुल निटक आ चुकी है और हर तरफ ये सुगबुगाहट हो रही है कि चीन विवाद और कोरोना काल के बीच पीएम मोदी इस बार लालकिले के प्राचीर से देश को क्या संदेश देंगे। तो दूसरी तरफ ये भी बात चल रही है कि स्वतंत्रा दिवस के मौके पर वो देश की अवाम को क्या तोहफा देंगे।

वन नेशन वन हेल्थ कार्ड का मोदी करेंगे ऐलान?

जानकारों की माने तो पीएम मोदी इसबार लालकिले से वन नेशन वन हेल्थ कार्ड का ऐलान कर सकते हैं। दरअसल, सरकार सभी देशवासियों का हेल्थ रिकॉर्ड डिजिटल करने की तैयारी कर रही है। जिसके तहत ये योजना लागू की जा रही है, इसके तहत हर व्यक्ति के अबतक हुए ट्रीटमेंट और भविष्य में होने वाले इलाज की जानकारी इसमें शामिल की जाएगी, इससे सबसे बड़ा फायदा यह होगा कि देश में किसी भी हॉस्पिटल या डॉक्टर के पास जब इलाज कराने जाएंगे तो साथ में आपको सारे पर्चे और टेस्ट रिपोर्ट नहीं ले जाना होगा, सिर्फ आपकी यूनिक आईडी के जरिए ही डॉक्टर आपका पूरा मेडिकल रिकॉर्ड देख सकेंगे। गौरतलब है कि इससे पहले मोदी सरकार ने आयुष्मान योजना के तहत 5 लाख रूपये तक गरीबो का मुफ्त इलाज कर रही है और अब तक करीब 3 करोड़ से ज्यादा लोग इससे जुड़ भी चुके हैं। इसे विश्व की सबसे बड़ी और बेहतर स्वास्थ योजना का नाम भी दिया जा रहा है। तो दूसरी तरफ विश्व के कई बड़े देश भी इस योजना की तारीफ कर चुके हैं।

अपनी योजना से एकता के धागे में पीएम मोदी ने बांधा देश

वैसे अगर ये योजना शुरू होती है तो एक और इतिहास बन जाएगा क्योंकि इससे पहले पीएम मोदी कई ऐसी योजना शुरू कर चुके हैं जो दक्षिण से उत्तर तो पूर्व से पश्चिम तक एक ही रूप में लागू होती है। जो देश की एकता को और मजबूत करती है। तो देश में एक स्थान से दूसरे स्थान जाने पर भी जनता को इसका फायदा मिलता रहता है। मसलन अब एक राष्ट्र एक राशन कार्ड योजना को ही ले लीजिए । मोदी सरकार कि इस योजना का ऐसा फायदा कोरोना काल में खूब देखा गया है। क्योंकि गरीबो को ध्यान में रखकर बनी इस योजना के चलते ही अब देश के कोई भी कोने में लोग रहे वहां उन्हे राशन कार्ड के जरिए राशन मिल जाता है। इसी तरह एक देश एक कर GST  के चलते देश में कारोबार करना काफी सरल हो गया है क्योंकि देश में अब हर जगह एक टैक्स लगता है। जिससे ग्राहक और दुकानदार दोनो को फायदा होता है। वही सबसे बड़ा काम तो धारा 370 हटाकर पीएम ने किया जिसका इंतजार भारत देश के लोग 70 साल से कर रहे थे। सरकार के इस कदम के बाद आज पूरे देश में एक देश और एक संविधान लागू हो पाया है।

कुल मिलाकर साफ है कि पीएम मोदी बीते 6 साल में जो भी काम करते हैं उसकी रूपरेखा ऐसे तैयार करते हैं कि देश के हर हिस्से को इसका फायदा हो तो देश इन योजनाओं के जरिए एक धागे में भी पिरोया जा सके। ऐसे सोच रखने वाले पीएम मोदी पर अब हम क्यों न नाज करें क्योंकि वो देश के बारे में सोचते हैं जीते हैं और काम करते हैं..