भारत में तेजी से हो रहा काम दुनिया कर रही जय जयकार

जिस तरह से मोदी जी के नेतृत्व में देश तेजी के साथ विकास कर रहा है उसकी गूंज अब विदेशों में सुनाई दे रही है। तभी तो आर्थिक हालात पर आईएमएफ ने भारत की तारीफ करते हुए बोला है कि कोरोना महामारी के बीच भारत एक मात्र ऐसा देश होगा जिसकी ग्रोथ डबल डिजिट में होगी तो दूसरी तरफ अब यूएन के महासचिव ने भारत की वैक्सीन उत्पादन क्षमता की बढ़कर तारीफ की है, जो ये बताता है कि भारत की साख किस तरह से विश्व में बढ़ रही है।

UN चीफ ने भारत की शान में पढ़े कसीदे वैक्सीनेशन में बताया नंबर वन

कोरोना महामारी के बीच संयुक्त राष्ट्र महासचिव एंटोनियो गुतारेस ने  भारत की जमकर तारीफ की। उन्होंने कहा कि नई दिल्ली को ग्लोबल वैक्सीनेशन अभियान में अहम भूमिका निभानी चाहिए। यूएन चीफ ने भारत की वैक्सीन निर्माण क्षमता की तारीफ करते हुए कहा कि मुझे पता है कि भारत में बहुत बड़े पैमाने पर स्वदेश में विकसित वैक्सीनों का प्रोडक्शन होता है। हम इसके लिए भारतीय संस्थानों के संपर्क में हैं। हमें पूरी उम्मीद है कि ग्लोबल वैक्सीनेशन कैंपेन को कामयाब बनाने के लिए भारत हर तरह की जरूरी बड़ी भूमिका निभाएगा। इसके साथ साथ उन्होने ने भारत द्वार अपने पडोसियों को कोरोना वैक्सीन मुफ्त में देने की भी तारीफ की। इसके अलवा भारत ओमान, CARICOM देशों, निकारगुआ, पसिफिक आइलैंड स्टेट्स को भी वैक्सीन गिफ्ट देने की योजना बना रहा है जो एक बहुत बड़ा कदम है और इसकी जितनी भी तारीफ की जाये वो कम होगी।

डबल डिजिट में होगी भारत की आर्थिक ग्रोथ – IMF

कोरोना महामारी ने देश की आर्थिक स्थिति की कमर तोड़कर रख दी लेकिन पीएम मोदी ने उससे उबारने के लिए एक मंत्र देश को दिया आत्मनिर्भर भारत जिसके सहारे भारत ने तेजी के साथ आर्थिक स्थिति सुधरती दिख रही है। जिस बात को दुनिया भी मान रही है। खुद IMF भी मान रही है कि भारत एक मात्र देश होगा जो डबल डिजिट में ग्रोथ करेगा। आईएमएफ चीफ इकोनॉमिस्ट गीता गोपीनाथ ने 2021 में भारत की अनुमानित आर्थिकवृद्धि दर 11.5 प्रतिशत रहने के साथ ही बेड बैंक बनाने के आइडिया का भी समर्थन किया है। गौरतलब है कि आईएमएफ ने मंगलवार को जारी अपने ताजा विश्व आर्थिक परिदृश्य में आर्थिक वृद्धि दर इस साल दहाई अंक में होने का अनुमान जताया है। गोपीनाथ ने कहा कि इनसॉल्वेंसी एंड बैंकरप्सी कोड को प्राथमिकता दी जानी चाहिए क्योंकि कोरोना महामारी के कारण हुए आर्थिक व्यवधान के कारण बैड लोन के बढ़ने की आशंका है जिसके लिए बैड बैंक एक अच्छा आइडिया बताया।

मोदी जी बिलकुल ठीक बोल रहे है कि ये सदी भारत की सदी है और भारत ही इस सदी में सबसे तेजी के साथ आगे बढ़ेगा। इस बात पर अब मुहर भी लग गई है क्योकि विश्व के सभी बड़े संगठन लगातार भारत की तारीफ करते दिख रहे है।