भूमिपूजन के साथ शुरू हुआ, राम मंदिर का काज

प्रभु की कृपा भयहु सब काजू। जन्म हमार सुफल भय आजु।। बिलकुल आज ऐसा लग रहा है कि जैसे जीवन सफल हो गया है क्योंकि अपने आंखों से भगवान राम के मंदिर निर्माण के भूमिपूजन के दर्शन कर लिये हैं। कुछ ऐसा ही आज पीएम मोदी जी को भी लग रहा होगा क्योंकि वो भी भगवान के दर्शन करने 29 साल बाद अयोध्या पहुंचे थे। पीएम मोदी के इस दौरे के दौरान ली गई कुछ खास तस्वीरों को आपको दिखाते हैं।

हनुमानगढ़ी में पहुंच कर किये दर्शन

पीएम मोदी ने अयोध्या पहुंचकर सीधे हनुमानगढ़ी में पूजा अर्चना की, पीएम मोदी ने इस दौरान हनुमान जी की आरती करके माथा भी टेका ,साथ ही साथ पीएम ने मंदिर के मंहत से भी मुलाकात की इस दौरान मंहत ने खुद प्रसाद स्वरूप उन्हें साफा पहनाया  जिसमें एक मुकुट भी लगा हुआ था।

रामलला को प्रधानमंत्री मोदी ने किया सष्टांग प्रणाम

हनुमान गढ़ी से निकलने के बाद पीएम मोदी सीधे रामलला के दर्शन करने पहुंचे पीएम मोदी की तस्वीरों से यही लगता है कि जैसे एक भक्त भगवान राम को पाकर निहाल हो जाता है वैसे ही वो भी हो गये। खुद पीएम मोदी ने रामलला को दंडवत प्रणाम किया और उनसे प्रार्थना की साथ ही भगवान राम को फूल भी चढ़ाया।

पीएम मोदी ने लगाया पारिजात का पौधा

पीएम मोदी ने इस दौरान रामजन्मभूमि स्थान पर एक पारिजात का पौधा भी लगाया और  संसार को हराभरा रखने के लिए संदेश दिया। यहां ये बताना भी जरूरी है कि पीएम मोदी देश के पहले पीएम है जिन्होंने रामलला के दर्शन करने का सौभाग्य मिला है वरना इससे पहले कई बार पीएम अयोध्या तो आये लेकिन बिना राम के दर्शन किये ही चले गये।

पीएम मोदी ने राम मंदिर के नींव की ईंट रखी

पंडितों के मंत्रों के बीच में शुभ घड़ी अभिजात नक्षत्र के वक्त पीएम मोदी राम मंदिर की नींव रखी इस मौके पर उनके साथ संघ प्रमुख मोहन भागवत और यूपी के सीएम योगीनाथ के साथ राज्यपाल अनंदी बेन पटेल भी शामिल थी। करीब 1 घंटे के चलने वाले इस भूमिपूजन के कार्यक्रम में कोरोना के चलते समाजिक दूरी का भी विशेष ध्यान रखा गया।

कुल मिलाकर 29 साल पहले राम मंदिर का जो सपना या यूं कहे कि जो संकल्प पीएम मोदी जी ने देखा था वो पूरा हो रहा था। वक्त की हर सूई के आगे बढ़ते ही नया इतिहास लिखा जा रहा था और इस इतिहास के केंद्र में पीएम मोदी जी थे। जिनके चलते आज करोड़ों भारतीयों के लिए एक साल में दो बार दिवाली मनाने का मौका मिला है।