प्रधानमंत्री मोदी ने घर-घर स्वच्छ जल पहुँचाने और ऊर्जा के क्षेत्र में जो कार्य किया है वो अनुकरणीय है: फ्रेडरिकसेन

कोरोनाकाल के बीच जिस तरह से वैक्सीनेशन का काम भारत में हुआ है उसी का असर है कि अब विदेश के लोग भारत आने से नही कतरा रहे है और करीब दो साल बाद विदेशी राजनायिको के दौरे शुरू हो गये है। इसी क्रम में डेनमार्क की पीएम फ्रेडरिकसेन भारत के दौरे पर आई हुई है। पीएम मोदी के साथ उनकी खास मुलाकात में दोनो देशो के बीच में जहां एक तरफ कई अहम समझौते हुए है तो उन्होने पीएम मोदी तारीफ करते हुए बोली है कि मोदी जी दुनिया के लिये प्रेरणा के स्रोत है।

पीएम मोदी की मुरीद हुई डेनमार्क की प्रधानमंत्री

भारत दौरे पर आई डेनमार्क की पीएम फ्रेडरिकसेन और पीएम मोदी के बीच द्विपक्षीय वार्ता हुई। इस बैठक में ‘हरित सामरिक गठजोड़’ के क्षेत्र में प्रगति की समीक्षा करने के साथ द्विपक्षीय संबंधों के विविध आयामों पर चर्चा की गई। इसके अलावा दोनों देशों ने पानी, ग्रीन ईंधन, स्वास्थ्य और कृषि जैसे क्षेत्रों में एक साथ कार्य करने की सहमति जताई गई। इतना ही नहीं डेनमार्क की पीएम ने मोदी जी के कामो की तारीफ करते हुए बोला पीएम मोदी दुनिया के बाकी हिस्सों के लिए एक प्रेरणा हैं क्योंकि आपने 10 लाख से अधिक घरों में स्वच्छ पानी और नवीकरणीय ऊर्जा के लिए कुछ बहुत ही महत्वाकांक्षी लक्ष्य निर्धारित किए हैं। ऐसा बहुत कम लोग ही कर पाते है इसके साथ साथ पीएम मोदी को उन्होने डेनमार्क आने का निमंत्रण दिया जिसे पीएम मोदी ने स्वीकार कर लिया।

 भारत के विकास के लिए डेनमार्क की भूमिका अहम

इस बीच पीएम मोदी ने कहा कि हम जिस स्केल और स्पीड से आगे बढ़ना चाहते हैं उसमें डेनमार्क की विशेषज्ञता और तकनीक बहुत महत्वपूर्ण भूमिका अदा कर सकती है। भारत की अर्थव्यवस्था में आए रिफॉर्म्स विशेष रूप से मैन्युफैक्चरिंग सेक्टर में उठाए गए कदम ऐसी कंपनियों के लिए अपार अवसर प्रस्तुत कर रहे हैं।  उन्होंने कहा कि आज से एक साल पहले हमने अपने वर्चुअल समिट में भारत और डेनमार्क के बीच ग्रीन स्ट्रैटजिक पार्टनरशिप स्थापित करने का ऐतिहासिक निर्णय लिया था। यह हम दोनों देशों की दूरगामी सोच और पर्यावरण के प्रति सम्मान का प्रतीक है।

दोनो देशों के बीच आज इस बैठक के बाद आपसी संबध और करीब आये है और माना जा रहा है कि दोनो देश मिलकर आने वाले दिनो में कोरोना से तो निपटेगे ही साथ ही जलवायु परिवर्तन के मामले में भी दुनिया को एक नया रास्ता दिखायेगे।