वैक्सीन कूटनीति का दिखा असर: किसान आंदोलन के मुद्दे पर कनाडा ने लिया यू टर्न, ब्रिटेन ने बताया आंतरिक मुद्दा

 एक वक्त था जब भारत की अंदरूनी कई मामले में विदेशी देश दखल दिया करते थे लेकिन आज वक्त बिलकुल बदल गया है और विश्व के देश या तो भारत के आंतरिक मामलो में दखल नहीं देते है या फिर मोदी सरकार के कदमो की तारीफ करते हुए नजर आते है।

 

कनाडा के पीएम ने मोदी सरकार के कदमो को सही बताया

कल तक जो कनाडा किसान आंदोलन को लेकर बयानबाजी कर रहा था, अब किसान मामले में कनाडाई प्रधानमंत्री ने यूटर्न लेते हुए मोदी सरकार के प्रयासों की सराहना की है। पीएम मोदी से फोन पर बात करते हुए कहा कि किसानों की चिंताएं दूर करने के लिए बातचीत का रास्ता अपनाना लोकतंत्र के मुताबिक उठाया कदम है।बता दें कि कनाडा ने इससे पहले किसान आंदोलन को लेकर सरकार की आलोचना की थी लेकिन अब उनके सुर बदले हुए नजर आ रहे हैं। इतना ही नहीं उन्होने भारत के पीएम मोदी से कोरोना वैक्सीन की गुहार भी लगाई है जिसके बाद पीएम मोदी ने उन्हे भरोसा दिया है कि वो इस बाबत उचित कदम उठायेंगे। उधर कनाडा ने उसके यहां भारतीय मिशनों व राजनयिकों को अलगाववादियों और खालिस्तानी नेताओं के प्रदर्शन से सुरक्षा प्रदान करने का भी आश्वासन दिया है जो ये बताता है कि भारत की छवि आज विश्व में कितनी मजबूत है। वैसे कनाडा के पीएम ने जब भारत के खिलाफ बोला था तब भी विश्व में उनकी काफी फजीहत हुई थी।

Image result for कनाडा के पीएम ने मोदी

ब्रिटेन ने बताया आंतरिक मुद्दा

किसान आंदोलन को लेकर सबसे ज्यादा हंगामा ब्रिटेन में भी देखा गया था। यहां के कई सांसद भारत के खिलाफ बोल रहे थे और दावा कर रहे थे कि भारत के खिलाफ 100 लोगो के हस्ताक्षर उनके पास है कि वो किसान आंदोलन के मुद्दे पर ब्रिटेन की संसद में चर्चा करवा सकें। लेकिन आज ब्रिटेन की सरकार ने खुले तौर पर ये बोल दिया है कि किसान आंदोलन भारत का आंतरिक मुद्दा है और दूसरे देश को उसके आंतरिक मुद्दे पर दखल नही देना चाहिये, जो ये बताता है कि भारत और ब्रिटेन की दोस्ती अबतक के सबसे बेहतरीन वक्त में है जो मोदी जी की विदेश नीति के चलते हो पाया है। वैसे ऐसा उस वक्त भी देखा गया था जब भारत ने पाक पर सर्जिकल स्ट्राइक और एयर स्ट्राइक की थी। इसके बाद जिस वक्त भारत ने कश्मीर से 370 धारा हटाई थी उस वक्त भी विश्व का साथ मोदी जी को मिला था जो ये दर्शाता है कि आज विदेशनीति में भारत कहां खड़ा है, खासकर आज विश्व भारत का गुणगान गा रहा है और ये सब वैक्सीन कूटनीति के चलते भी हो रहा है।

Image result for ब्रिटेन संसद

यानी भारत आज बिना किसी के दबाव में काम करने में जुटा हुआ है और भारत वही काम कर रहा है जिससे देश का फायदा हो लेकिन इन सबक के बीच मोदी जी का बयान याद आ रहा है जिसमे उन्होने कहा था कि ना वो आंख दिखाकर बात करेंगे ना आंख झुकाकर बात करेंगे, वो बात करेंगे तो आंख मिलाकर बात करेंगे।