20 सितंबर को मिलेगा राफेल विमानों की पहली खेप, फ्रांस जाएंगे रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह और वायु सेना प्रमुख

  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

The first consignment of Rafale planes will be found on 20 September

राफेल भारतीय वायु सेना के लिए बनाया गया अपना पहला फाइटर जेट सौंपने के लिए तैयार है। रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह और वायु सेना प्रमुख बी एस धनोआ अगले महीने पेरिस जाएंगे और भारतीय वायु सेना के लिए 36 राफेल लड़ाकू विमानों की पहली खेप प्राप्त करेंगे।

सूत्रों ने कहा कि 20 सितंबर को राफेल विमान सौंपने का कार्यक्रम हो सकता है जिसमें शीर्ष सैन्य अधिकारियों के साथ राफेल की निर्माता दासॉल्ट एविएशन के वरिष्ठ अधिकारी भी रहेंगे। यह समारोह सितंबर के तीसरे सप्ताह के अंत में होने की उम्मीद है और फ्रांसीसी सरकार के एक बड़े दल के भी भाग लेने की संभावना है।

सरकार के सूत्रों ने यह जानकारी दी। रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह और वायु सेना प्रमुख बी एस धनोआ अगले महीने पेरिस जाएंगे और भारतीय वायु सेना के लिए 36 राफेल लड़ाकू विमानों की पहली खेप प्राप्त करेंगे। भारतीय वायु सेना अगले साल मई तक राफेल उड़ाने के लिए तीन अलग-अलग बैचों में 24 पायलटों को प्रशिक्षित करेगी, जो कि राफेल के भारत में आने के बाद होगा। भारतीय वायु सेना राफेल लड़ाकू विमान के एक-एक दस्ते को हरियाणा के अंबाला और बंगाल के हाशिमारा में अपने एयरबेस पर तैनात करेगी।

गौरतलब है की सितंबर 2016 में, भारत ने लड़ाकू विमानों के कमी को रोकने और पूर्वी और पश्चिमी मोर्चों पर तत्काल आवश्यकताओं को पूरा करने के लिए 7.8 बिलियन यूरो से अधिक में 36 राफेल लड़ाकू जेट का अधिग्रहण करने के लिए फ्रांस सरकार और डसॉल्ट एविएशन के साथ एक समझौते पर हस्ताक्षर किए थे ।

बता दे की प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी बृहस्पतिवार को द्विपक्षीय यात्रा पर फ्रांस रवाना होंगे। इस दौरान दोनों देशों के बीच रक्षा सहयोग और मजबूत करने पर चर्चा होगी।

सूत्रों ने कहा कि भारतीय वायु सेना का उच्चस्तरीय दल पहले से पेरिस में है जो विमान सौंपने के लिए आयोजित समारोह को लेकर फ्रांस के अधिकारियों के साथ काम कर रहा है।

 


  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •