मन की बात’ का असर: बिहार के युवक ने गांव में लगाया प्लांट, 60 लोगों को दिया रोजगार, अब भूटान तक हो रही मशरूम की सप्लाई

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने लोगों से रोजगार सृजन की अपील की थी। इस अपील का प्रभाव छपरा के एक पढ़े लिखे बेरोजगार नौजवान किसान पर पड़ा और उसने अपने गांव में ही मशरूम का प्लांट स्थापित कर 60 लोगों को रोजगार दे दिया। इस किसान युवक के प्लांट से निकला मशरूम अब भूटान तक निर्यात किया जा रहा है।

गरखा प्रखंड के साधपुर गांव के अजय यादव पढ़ाई पूरी कर नौकरी की तलाश कर रहे थे। तभी उनको पीएम मोदी की मन की बात सुनने का मौका मिला। जिसमें प्रधानमंत्री ने लोगों से भी रोजगार सृजन की अपील की। इस अपील को सुनकर अजय इतना प्रभावित हुए कि कुछ करने की ठान ली और गांव में ही परम्परागत खेती के साथ कुछ अलग करने का निर्णय लिया। लेकिन अजय के पास न तो ज्यादा जमीन थी और न ही ज्यादा पूंजी, लिहाजा अजय ने कम लागत और कम जगह में शुरू होने वाले मशरूम की खेती करने का निर्णय लिया।

अजय का यह प्रयास रंग लाया और आज गरखा के इस छोटे से गांव से देश विदेश में मशरूम की सप्लाई हो रही है। अजय यादव के मशरूम प्लांट को देखने अब दूर दूर से लोग पहुंच रहे हैं। अजय हर आने वाले को इस खेती के बारे में विस्तार से बताते हैं, साथ ही प्रधानमंत्री की अपील पर भी अमल करने की सलाह देते हैं। अजय के प्लांट की सराहना अब जिले के उधान पदाधिकारी राजू रावत भी कर रहे हैं और लोगों से इनकी तरह ही सरकारी मदद के साथ स्वरोजगार करने की सलाह दे रहे हैं।

Originally Published At-NavbharatTimes