संसद का बजट सत्र 31 जनवरी से, 1 फरवरी को पेश होगा आम बजट

  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

संसद का बजट सत्र आगामी 31 जनवरी से शुरू हो रहा है और ये सत्र तीन अप्रैल तक चलेगा। इस दौरान बीच में कुछ दिनों का अवकाश रहेगा। राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद 31 जनवरी को सुबह 11 बजे संसद के दोनों सदनों लोकसभा और राज्यसभा के संयुक्त सत्र को संबोधित करेंगे। वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण एक फरवरी को मोदी सरकार के दूसरे कार्यकाल का दूसरा बजट पेश करेंगी। विश्लेषकों को उम्मीद है कि अर्थव्यवस्था में जारी नरमी को देखते हुए सरकार इस बजट में अर्थव्यवस्था को पटरी पर लाने के लिये उपायों की घोषणा कर सकती है।

बजट सत्र के पहले चरण में दोनों सदनों की कार्यवाही 11 फरवरी को स्थगित हो जाएगी और फिर दूसरा चरण दो मार्च से शुरू होगा।

कई साल से नहीं बदले स्लैब

विशेषज्ञों का मानना है कि वित्त मंत्री को आयकर स्लैब में बदलाव करना चाहिए। पिछले कई सालों से इनमें कोई बदलाव नहीं किया गया है। बता दें कि पिछले साल जब मोदी सरकार ने कॉर्पोरेट टैक्स (Corporate Tax) में कटौती की थी उस दौरान भी इनकम टैक्स के रेट में कमी किए जाने की मांग उठी थी। जिससे खरीदी बढ़ सके और अर्थव्यवस्था को गति मिल सके।

आम नौकरीपेशा और सामान्य करदाता प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की सरकार की दूसरी पारी में टैक्स की दरों में राहत की उम्मीद कर रहे हैं। सरकार ने हालांकि आम नौकरीपेशा लोगों की पांच लाख रुपए तक की कर योग्य आय पहले ही टैक्स-फ्री कर चुकी है, लेकिन टैक्स स्लैब में कोई बदलाव नहीं किया गया है। 60 साल के वरिष्ठ नागिरक और 80 साल से अधिक के बुजुर्गों के लिए क्रमशः तीन लाख और पांच लाख रुपए तक की आय टैक्स-फ्री रखी गई है।

पीएम मोदी ने मांगे सुझाव

एक फरवरी को पेश होने वाले आम बजट की तैयारियां जोर-शोर से चल रही हैं। इस बजट के पेश होने से पहले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने एक खास पहल की है। इसके तहत आप पीएम मोदी को बजट से जुड़े सुझाव दे सकते हैं।

दरअसल, 5 जनवरी को MyGov ट्विटर हैंडल से बजट को लेकर ट्वीट कर किसान की हालत और शिक्षा में सुधार के संबंध में सुझाव मांगे गए थे। पीएम मोदी ने लिखा, “केंद्रीय बजट 130 करोड़ भारतीयों की आशा, आकांक्षाओं का प्रतिनिधित्व करता है और भारत को विकास की दिशा में आगे बढ़ता है। मैं आप सभी को इस वर्ष के बजट के लिए अपने विचारों और सुझावों को साझा करने को आमंत्रित करता हूं।” ऐसे में अगर आप पीएम मोदी को बजट से जुड़े सुझाव देना चाहते हैं तो आपको MyGov पर विजिट करना होगा।

उद्योगपतियों के साथ मंथन

इससे पहले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने देश के शीर्ष उद्योगपतियों के साथ अर्थव्यवस्था की स्थिति पर चर्चा की। बताया जा रहा है कि बैठक में अर्थव्यवस्था को प्रोत्साहन देने तथा रोजगार सृजन बढ़ाने के उपायों पर विचार विमर्श किया गया।

 


  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •