इसरो ने रचा इतिहास – अंतिम लक्ष्य न मिलने पर भी देश और दुनिया ने माना इसरो का लोहा

क्या हार में क्या जीत में, किंचित नहीं भयभीत मैं, संधर्ष पथ पर जो मिले, यह…