मोदी से मिले छात्रों ने बोला ‘भगवान के बाद सिर्फ मोदी पर था भरोसा’

रूस और यूक्रेन के बीच चल रही जंग के कारण कई भारतीय स्टूडेंट्स वापस लौटे हैं, जबकि अब भी कई वहीं फंसे हैं। उन्हे भी वापस लाने के लिए युध्दस्थल पर काम किया जा रहा है। इस बाबात ऑपरेशन गंगा के तहत भारत आये छात्रों में से कुछ छात्रों से पीएम मोदी ने बनारस में मुलाकात करी। इस दौरान छात्रों ने बोला कि उन्हे भगवान के बाद सिर्फ पीएम मोदी पर ही भरोसा था कि वो जरूर उन्हे बचाकर वापस लायेगे।

May be an image of 11 people, people standing and indoor

स्वदेश लौटे छात्रों ने पीएम मोदी से अपने अनुभव को किया साझा

बनारस में पीएम मोदी ने यूक्रेन से आये कुछ भारतीय छात्रों से बात की। छात्रों ने साफ किया कि जिस तरह से मोदी सरकार ने उनकी सहायता भारत आने में की वो उसे भूल नहीं सकते है। उन्होने कहा कि परिवार का हर शख्स ये बोलते हुए दिख रहा था कि भगवान के बाद मोदी पर भरोसा रखो वो जरूर सकुशल भारत लेकर आयेगे। इसके साथ साथ एक छात्र ने बताया कि यूक्रेन में उन्हे तिरंगे की ताकत पता चली और आज उन्हे इस बात का गर्व है कि वो भारत के नागरिक है। इसी तरह बच्चों के अभिभावक ने बोला कि मोदी आप पर देश को पूरा भरोसा है

 

मेडिकल एजुकेशन पर मोदी ने क्या कहा

इन भारतीयों से बात करते हुए प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि ‘अगर भारत में मेडिकल एजुकेशन की नीतियां पहले से सही होतीं, तो आप लोगों को पढ़ने के लिए विदेश नहीं जाना पड़ता। कोई भी माता-पिता अपने बच्चों को इतनी कम उम्र में खुद से दूर विदेश नहीं भेजना चाहते।’ उन्होंने कहा कि उनकी सरकार पिछली गलतियों को सुधारने के लिए काम कर रही है। ‘पहले देश में जहां 300 ले 400 मेडिकल कॉलेज थे, अब उनकी संख्या बढ़कर 700 के करीब हो चुकी है। भारत में मेडिकल कॉलेजों की संख्या बढ़ने से मेडिकल की सीटें भी बढ़ी हैं।पहले जहां 80 से 90 हजार सीटें थीं, अब उनकी संख्या करीब 1.5 लाख हो चुकी है। ’प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने यूक्रेन से लौटे भारतीय छात्रों से कहा कि ‘मेरा प्रयास है कि भारत के हर जिले में एक मेडिकल कॉलेज बनाया जाये। पीएम मोदी ने कहा कि ‘मेरी सांत्वना उन छात्रों के साथ है जिन्हें इतनी कम उम्र में ऐसे हालात और अनुभवों का सामना करना पड़ा। लेकिन एक मजबूत भारत इन मुश्किलों का जवाब है।’ यूक्रेन से लौटे छात्रों ने मदद के लिए प्रधानमंत्री और भारत सरकार का धन्यवाद किया।

वैसे ये मुलाकात तो बहुत छोटी थी लेकिन इस मुलाकात में पीएम मोदी की वो विनम्रता जरूर दिखी जो हमेशा भारत के नागरिकों के प्रति उनकी दिखती है। तभी तो आज हर देशवासी ये बोलता है कि पीएम मोदी है तो देश में सबकुछ मुमकिन है।