स्टैचू ऑफ यूनिटी ने हासिल की एक और उपलब्धि, दुनिया के आठ अजूबों में हुआ शामिल

  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

Statue_Of_Unity

गुजरात के केवड़िया स्थित हिंदुस्तान को एकता के सूत्र में पिरोने वाले देश के प्रथम गृहमंत्री तथा उपप्रधानमंत्री सरदार वल्लभभाई पटेल के स्मारक “स्टेच्यू ऑफ यूनिटी” ने एक और बड़ी उपलब्धि हासिल कर ली है। खबर के मुताबिक़, आठ देशों के अंतरराष्ट्रीय संगठन शंघाई कॉरपोरेशन ऑर्गनाइजेशन SCO ने सरदार वल्लभभाई पटेल के स्मारक स्टैचू ऑफ यूनिटी को अपने आठ अजूबों की लिस्ट में शामिल कर लिया है। भारत के विदेश मंत्री एस जयशंकर ने ट्वीट कर इसकी जानकारी दी है। बता दे की एससीओ के आठ सदस्यों में भारत, पाकिस्तान, चीन, कजाकिस्तान, किर्गिस्तान, तजाकिस्तान, रूस और उज्बेकिस्तान शामिल हैं।

विदेश मंत्री एस जयशंकर ने लिखा कि “सदस्य देशों के बीच पर्यटन को बढ़ावा देने के लिए SCO के प्रयास की सराहना करते हैं। SCO के आठ अजूबों की लिस्ट में स्टैच्यू ऑफ यूनिटी शामिल है। यह निश्चित रूप से एक प्रेरणा के रूप में काम करेगा।” स्टैचू ऑफ यूनिटी के SCO के आठ अजूबों की लिस्ट में शामिल होने का मतलब ये भी है कि अब SCO खुद सदस्य देशों में दुनिया की सबसे ऊंची मूर्ति स्टैचू ऑफ यूनिटी का प्रचार करेगा।

Statue-of-Unity-Sardar-Vallabhbhai-Patel

बता दें कि अनावरण के सालभर बाद ही स्टेच्यू ऑफ यूनिटी को रोजाना देखने आने वाले पर्यटकों की संख्या अमेरिका के 133 साल पुराने स्टेच्यू ऑफ लिबर्टी के पर्यटकों से ज्यादा हो गई है। गुजरात स्थित इस स्मारक को देखने औसतन 15000 से अधिक पर्यटक रोज पहुंच रहे हैं। बता दें कि लौह पुरुष सरदार वल्लकभ भाई पटेल की 143वीं पुण्यधतिथि के मौके पर 31 अक्टूेबर को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने दुनिया की सबसे ऊंची ‘स्टेच्यूं ऑफ यूनिटी’ का अनावरण किया था। अब यह दुनिया का महत्वपूर्ण पर्यटन स्थल बन चुका है। यह प्रतिमा गुजरात में केवड़िया कॉलोनी में नर्मदा नदी पर सरदार सरोवर बांध के समीप है। सरदार वल्लतभ भाई पटेल की इस प्रतिमा को सिर्फ चार सालों के भीतर बनाया गया है। इसे बनाने की लागत 2989 करोड़ रुपए आई है।

सरदार सरोवर नर्मदा निगम लिमिटेड ने दिसंबर 2019 में एक बयान में कहा था कि पहली नवंबर, 2018 से 31 अक्टूबर, 2019 तक पहले साल में रोजाना आने वाले पर्यटकों की संख्या में औसतन 74 फीसदी वृद्धि हुई है और अब दूसरे साल के पहले महीने में पर्यटकों की संख्या औसतन 15036 पर्यटक प्रतिदिन हो गयी है। बयान में कहा गया है कि सप्ताहांत के दिनों में यह 22,430 हो गयी है। अमेरिका के न्यूयार्क में स्टेच्यू ऑफ लिबर्टी को देखने रोजाना 10000 पर्यटक पहुंचते हैं।

विश्व के सात अजूबे कौन-कौन है?

हाल ही में शंघाई कॉर्पोरेशन ऑर्गेनाइजेशन ने स्टेच्यू ऑफ यूनिटी को विश्व के 8वें अजूबे में शामिल किया है। अब चीन की दीवार, जॉर्डन का पेट्रा, रोम-ईटली का कोलेजियम, मैक्सिको शहर चिचेन इटजा, पेरू का मायुपीयु ,भारत का ताजमहल तथा ब्राजील का क्राइस ऑफ रिडीमर के बाद देश का आठवां अजूबा के तौर पर सरदार पटेल की प्रतिमा स्टेच्यू ऑफ यूनिटी का नाम लिया जाएगा।

बता दें कि अब विश्व के 8 अजूबों में भारत के 2 अजूबे शामिल हुए है। इसकी जानकारी भारत सरकार के विदेश मंत्री एस जयशंकर ने अपने ट्विटर के जरिए दी है। उन्होंने बताया है कि शंघाई कॉर्पोरेशन ऑर्गेनाइजेशन द्वारा स्टेच्यू ऑफ यूनिटी को विश्व की 8 अजूबों में शामिल करने के बाद पर्यटन उद्योग को फायदा होगा।

 


  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •