चीनी सिपाहियों की क्रब देख, दुनिया ने फिर भारतीय फौज का माना लोहा

  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

कहते है न, कि सच को कितना भी छुपा लो लेकिन वो छुपता नही, सबके सामने आ ही जाता है और ये बात एक बार फिर से साबित हो गई है। ड्रैगन ने लाख जतन किये कि वो हमारी बिहार रेजिमेंट के शौर्य को दुनिया के सामने नही आने देगा, लेकिन आखिरकार वो सफल नही हो पाया। लद्दाख के गलवान घाटी में भारतीय सेना के बिहार रेजिमेंट और आईटीबीपी के जवानों की दिलेरी के सबूत आते दिखाई दे रहे हैं।

 

कब्र की तस्‍वीरें बता रही भारतीय फौज की गौरव गाथा

1962 में लता जी ने एक गाना गया था जिसके बोल थे “ऐ मेरे वतन के लोगों जरा याद करो वो कहानी, जो शहीद हुए है उनकी जरा याद करो कुर्बानी”. तो गलवान घाटी में शहीद भारत के 20 जवानों की कुर्बानी की कहानी अब दुनिया के सामने आ गई है जो ये बता रही है कि मक्कार चीन को कैसे भारत के इन शूरमाओं ने धूल चटाई है। चीन के शिनजियांग प्रांत से आई कब्र की ये तस्वीरे कुछ यही बता रही है कि कैसे चीनी फौज को भारत की फौज ने अपनी धरती माँ के आँचल को मैला करने से रोका है। जानकारो की माने तो ये तस्वीर गलवान घाटी संघर्ष में चीनी फौजियों की है। गलवान घाटी में 15 जून को हिंसक संघर्ष में भारत के 20 जवान शहीद हो गए थे और चीन के भी 40 से ज्‍यादा सैनिक मारे गए थे। भारत ने जहां अपने मारे गए सैनिकों की संख्‍या का ऐलान कर ससम्मान उनका अंतिम संस्कार किया लेकिन चीन ने आजतक अपने मारे गए सैनिकों के बारे में कोई जानकारी नहीं दी है। अब पहली बार चीनी सैनिकों के कब्र की तस्‍वीरें इंटरनेट पर वायरल हो रही हैं। ‘चीनी ट्विटर’ कही जाने वाली वहां की माइक्रो ब्लॉगिंग साइट Weibo पर वायरल हो रही यह चीनी सैनिकों के कब्र की तस्वीर उसके झूठ की पोल खोल रही।

 

पेंगोंग त्सो एरिया में चीन की मक्कारी को फौज का जवाब

गलवान घाटी में मार खाने के बाद भी चीनी फौज अभी भी चालबाजी करने में लगी हुई है। लेकिन इसबार भारतीय सैनिक चीन की हर चाल पर पैनी नजर रखे हुए है, तभी चीन की एक चाल को भारतीय फौज ने नकाम कर दिया है। चीन ने चुपचाप रात के अंधेरे में भारतीय सीमा में घुसपैठ की तैयारी कर ली थी। ड्रैगन सेना टैंक, 200 सैनिकों और गोला बारूद के साथ भारतीय सीमा दक्षिणी पैंगोंग शो झीलके दक्षिणी क्षेत्र में घुसपैठ करने की कोशिश की थी। लेकिन  मुस्तैद भारतीय जवानों ने दुश्मन की सेना को पीछे धकेल दिया। जिसके बाद चीनी सेना को समझ में आ गया होगा, कि इसबार उनकी मनमानी सीमा पर नही चलने वाली है। बल्कि अगर उन्होने जरा सा भी गलत कदम उठाया तो उन्हे लेने के देने पड़ जाएगे।

एक तरफ दुनिया भारतीय फौज की वीरता को चीनी सिपाहियों की क्रब के तौर पर देख रही है तो चीन की चालबाजी को भी समझ रही है। लेकिन इस बीच दुनिया ये अच्छी तरह जान गई है कि भारतीय फौज से जो टकराएगा वो चूर-चूर हो जाएगा।


  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •