प्रधानमंत्री की अध्यक्षता में गंगा सफाई अभियान ‘नमामि गंगे’ की समीक्षा बैठक जारी

  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

Narendra Modi being received by Uttar Pradesh Chief Minister Yogi Adityanath, on his arrival in Kanpur | Photo Credit: PTI

उत्तर प्रदेश के कानपुर में आज राष्ट्रीय गंगा परिषद की बैठक हो रही है। यह बैठक शहर के चंद्रशेखर आजाद कृषि एवं प्रौद्योगिकी विश्वविद्यालय में जारी है बैठक की अध्यक्षता प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी कर रहे है । इस बैठक में वह गंगा की सफाई के पहलुओं पर किए गए कार्यों की प्रगति की समीक्षा करेंगे और विचार-विमर्श करेंगे।

इससे पहले कानपुर पहुंचने पर सीएम योगी आदित्यनाथ ने पीएम मोदी का स्वागत किया। इस दौरान पार्टी के कुछ और पदाधिकारी भी मौजूद रहे। नमामि गंगे परियोजना को बीजेपी सरकार अपना ड्रीम प्रोजेक्ट बताती है।

Namami Gange Project | PC - Twitter

बैठक के बाद एक क्रूज पर नदी को साफ करने के लिए किए गए कार्यों की समीक्षा करेंगे। इस बैठक में गंगा नदी से जुड़ी परियोजनाएं मुख्य रूप से यूपी, बिहार और उत्तराखंड के सीएम भी शामिल हुए हैं तो वहीं बंगाल सीएम ममता बनर्जी शामिल नहीं हुई हैं। इस बैठक में नमामि गंगे परियोजना की विस्तृत समीक्षा के साथ ही इस प्रोजेक्ट की समाप्त हो रही अवधि को विस्तारित करने पर विचार होगा।

बिहार के उपमुख्यमंत्री सुशील मोदी ने बताया कि पूरे देश में इस कार्यक्रम के तहत 28,628 करोड़ रूपए की स्वीकृति दी गई है जिसमें से बिहार में 4,653.81 करोड़ रुपये मुख्य रूप से एसटीपी और उसके नेटवर्क के निर्माण,पर खर्च किया जा रहा है। इसके अतिरिक्त गंगा किनारे के गांवों में पौधारोपण, औद्योगिक इकाइयों के उत्सर्जन को गंगा में प्रवाहित होने से रोकने तथा घाटों व शवदाह गृहों के निर्माण आदि पर भी खर्च किया जा रहा है।

प्रधानमंत्री चंद्रशेखर आजाद विश्वविद्यालय में एक प्रदर्शनी भी देखेंगे जिसमें नमामि गंगे कार्यक्रम को दर्शाया गया है। प्रधानमंत्री कानपुर बैराज पर स्थित अटल घाट जाएंगे। जिसके लिए अटल घाट को पूरी तरह तैयार कर लिया गया है। कानपुर शहर गंगा को अविरल और निर्मल करने के लिए ऐतिहासिक रूप से पहल करने जा रहा है।

अटल घाट से सीसामऊ नाले तक प्रधानमंत्री बोट के जरिए जाएंगे। सीसामऊ नाला एक ऐसा स्थान है जहां से गंगा काफी प्रदूषित होती थी। 128 साल पुराने इस नाले में 14 करोड़ लीटर से अधिक सीवेज पानी गंगा में गिरता था लेकिन अब इसे पूरी तरीके से बंद कर दिया गया है। पीएम की कानपुर यात्रा के मद्देनजर शहर में सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम किए गए हैं।

 


  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •