रेलवे के कर्मचारियों को ऐप के जरिये मिलेंगी हेल्थ सेवाएं

भारतीय रेलवे अपने कर्मचारियों के लिए एक ख़ास पहल की शुरुआत करने जा रही है| ये पहल बेहतरीन स्वास्थ्य सुविधाओ की है| दरअसल, रेलवे ने अपने कर्मियों के स्वस्थ्य सुविधाओ के लिए सूचना प्रोद्यौगिकी की दिग्गज कंपनी माइक्रोसॉफ्ट से करार किया है| भारतीय रेलवे अब माइक्रोसॉफ्ट के कैजाला ऐप के सहारे से अपने कर्मियों को चैट (इंस्टेंट मेसजिंग) आधारित स्वास्थ्य सेवाएं मुहैया कराएगी| भारतीय रेलवे के इस पहल से करीब 30 लाख कर्मचारियों को माइक्रोसॉफ्ट के कैजाला ऐप से मदद मिलेगी| कैजाला ऐप रेलवे कर्मचारियों को क्वालिटी हेल्थ सेवाएं मुहैया करने में बेहद मददगार साबित होगी| इस ऐप के जरिये सेवानिवृत्त और मौजूदा कर्माचारियों को भी सुविधाएं मिल पायेगी| कैजाला ऐप से जहाँ 125 रेलवे हॉस्पिटल जोड़ी गयी है, वहीं इस ऐप से 133 मान्यता प्राप्त अस्पताल को भी जोड़ा गया है|

Kaizala_App

कैजाला ऐप में हेल्थकेयर सेवा के लिए पंजीकरण के बाद, रेलवे के कर्मचारी इस ऐप के सहारे पास के हॉस्पिटल और डॉक्टर की लिस्ट ढूंढ सकेंगे। इसके अलावा उनको इस ऐप के सहारे मान्यता प्राप्त डायग्नोस्टिक सेंटर की भी जानकारी ढूंढे में मदद मिलेगी| कैजाला ऐप के ग्रुप का मैनेजमेंट दक्षिण मध्य रेलवे के डॉक्टर कैजाला करेंगे| ऐप के सहारे डॉक्टरों का ग्रुप, पैरामेडिकल कर्मी और नर्स उनकी मदद करेंगे।

उपरोक्त सेवा से अलग रेलवे कर्मचारी इस ऐप के सहारे डॉक्टर का अपॉइंटमेंट भी ले सकेंगे। वही वो इसके मदद से लैब की रिपोर्ट भी सीधे डॉक्टर को भेज सकेंगे। इससे इतर इस ऐप पर हेल्थ के डिजिटल रिकॉर्ड माय चैट के सेक्शन में कर्मचारी सुरक्षित कर रख भी सकेंगे। इसके अलावा उनको महत्वपूर्ण घोषनाओ की जानकारी भी इसी ऐप के सहारे मिल जाएगी। ऐप के जरिए रेलवे के कर्मचारियों को जागरूकता संबंधी संदेश भी समय-समय पर मिलते रहेंगे। मालूम हो कि कैजाला ग्रुप में डॉक्टर कर्मचारी की मेडिकल भी देख सकेंगे। वहीं कर्मचारी भी इससे जुड़ा अपना फीडबैक रेलवे को बता सकेंगे। असल में, माइक्रोसॉफ्ट कैजाला एक सहज और सुलभ चैट आधारित ऐप है। इसके जरिए कंपनी अपने कर्मचारियों से सीधे जुड़ सकती है। उनको कई तरह की जानकारी दे सकती है। उनकी समस्याओ का निदान कर सकती है| साथ ही साथ ऐप के बारे में उनके राय भी संग्रह कर सकती है| इसके अलावा भी ऐप कई सुविधाओ से लैश है| और विभाग द्वारा जानकारी दी गयी है कि, “अभी हम इसको शुरूआती तौर पर लांच कर रहे है| समय बीतने के साथ हम इस पर कर्मचारियों, डॉक्टरों और ऐप से सम्बंधित लोगो से सलाह लेंगे| एवं ऐप को सबके लिए सहज और सुगम बनाने के रास्ते में जो भी बदलाव करने पड़ेंगे| हम उस दिशा में काम करने को तैयार है|”