लॉकडाउन को रेलवे और हवाई सफर ने किया लॉक

  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

कोरोना सकंट के चलते देश थम गया था लेकिन अब धीरे धीरे देश फिर से स्पीड पकड़ने लगा है। लॉकडाउन के दौरान जहां पहले बाजार और कलकारखानों से ताला हटाया गया था तो अब इसी क्रम में रेलवे और हवाई सफर को भी शुरू करने की शुरूआत होने का ऐलान कर दिया गया है।

1जून से पटरी पर दौड़ेगी 200 ट्रेने

वैसे तो रेलवे लॉकडाउन के दौरान भी आम जन की दिक्कत दूर करने में 24*7 काम कर रहा था जिसके चलते देश के कोने कोने तक राशन पहुंचाया गया। तो प्रवासी श्रमिको की दिक्कत को देखते हुए विशेष ट्रेन का इंतजाम किया गया। इसके तहत करीब 5 लाख से अधिक प्रवासी मजदूरों को अपनो से मिलने का मौका मिला। इसके साथ रेलवे ने कुछ विशेष ट्रेन चलाकर लोगों को राहत दी । लेकिन अब जून के पहले दिन से 200 ट्रेने पटरी पर दौड़ लगाने के लिये तैयार होगी। इसका ऐलान करते हुए रेलमंत्री पियुष गोयल ने साफ किया कि पहले इन ट्रेनों के टिकट सिर्फ ऑनलाइन ही दिये जाएंगे और बिना आरक्षण के किसी को भी ट्रेन में प्रवेश नही दिया जायेगा। हालाकि रेलवे ने ये भी बताया कि रेलवे स्टेशन को छोड़कर जो रेलवे के 1.7 लाख कॉमन सर्विस सेंटर्स पर भी टिकट मिल सकेंगे। वही आने वाले दिनों में रेलवे स्टेशन पर टिकट देने की विशेष तैयारी की योजना भी बनाई जा रही है। जिससे लोगों को दिक्कत न हो।

 

हवाई सफर की भी की गई शुरूआत

25 मई यानी आने वाले सोमवार से घरेलू उड़ानों को करीब दो महीने बाद शुरू किया जा रहा है। हालांकि बहुत कुछ पहले जैसा नहीं होगा। घरेलू उड़ानों के लिए जरूरी गाइडलाइन्स और SOP पहले ही जारी किए जा चुके हैं। हवाई अड्डे पर फिजिकल चेक-इन नहीं होगा, आरोग्य सेतु ऐप जरूरी है और साथ ही एक-तिहाई कैपेसिटी के साथ ही संचालन धीरे-धीरे शुरू किया जाएगा। इसके साथ साथ समाजिक दूरी को ध्यान में रखते हुए प्लेन में बीच की सीट को खाली रखा जायेगा। जिससे कोरोना संकट के बीच सफर किया जा सके।

मतलब साफ है कि देश में कोरोना वायरस के बीच इस तरह से जान और जहान को बचाकर एक नये भारत का निर्माण करना है उसके लिये धीरे धीरे अब भारत स्पीड में आ रहा है। वैसे अगर देखा जाये तो लॉकडाउन समूची दुनिया से धीरे धीरे हट रहा है। इसी कड़ी में भारत भी शामिल है। लेकिन पीएम मोदी जी पहले ही कह चुके हैं कि उनके लिये अर्थ से ज्यादा लोगों के जीवन का मुल्य है इसलिये वो सभी बातों को गौर करके फूक-फूक  के कदम बढ़ा रहे हैं जिससे कोरोना भी हारे और देश की आर्थिक गति भी तेजी से बढ़े। ऐसे में हमे भी सरकार का साथ देना है और सरकार के नियमों का पूरा पूरा ध्यान रखकर देश और अपने आपको कोरोना से बचाकर नवभारत निर्भाण का सपना पूरा करना है।


  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •