जनप्रतिनिधियों को पहले नही लगेगी वैक्सीन: मोदी

देश में 16 जनवरी से कोविड टीकाकरण अभियान शुरू होने वाला है। इससे पहले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने साफ कर दिया है कि पहले चरण में जिन तीन करोड़ लोगों को टीका लगना है, उनमें स्वास्थ्यकर्मी और फ्रंटलाइन वर्कर्स शामिल हैं। इसमें जन प्रतिनिधि समेत कोई भी छलांग लगाने की कोशिश न करे।

मोदी ने ठुकराया पहले जनप्रतिनिधियों को टीका लगाने का प्रस्ताव

पीएम मोदी ने सख्त लहजे में बैठक में साफ किया है कि कोरोना टीकाकरण के दौरान कोई वीवीआईपी व्यवस्था नही की जायेगी। पीएम मोदी ने सभी सांसदों और विधायकों को प्राथमिकता के आधार पर टीका लगाने के प्रस्ताव को यह कहते हुए ठुकरा दिया कि यह लोगों को बहुत बुरा संकेत देगा। क्योकि सबसे पहले हमे उनके बारे में सोचना चाहिए जो इस बीमारी से लगातार पिछले 8 -10 महीने से लोगों को बचाने में लगे है और उसके बाद उन लोगो को जो बीमारी से उबर चुके है या फिर जो देश के बुजुर्ग है।  प्रधानमंत्री ने मुख्यमंत्रियों को एक खास हिदायत भी दी। प्रधानमंत्री ने कहा कि टीकाकरण अभियान में इस बात का खास तौर पर ख्याल रखा जाए कि कोई नेता लाइन नहीं तोड़ने पाए। जन प्रतिनिधियों को भी टीका तभी लगे, जब उनकी बारी आए।

अपवाह फैलाने वालो से रहे सावधान

इसके साथ पीएम मोदी ने साफ किया कि टीकाकरण को सफल बनाने के लिये सभी राज्य के सीएम को अपने राज्य में उन लोगो से सावधान रहना होगा जो लोग आने वाले समय में वैक्सीन को लेकर अफवाह का बाजार गर्म करेगे, ऐसे लोगो के लिये सख्त कदम उठाने पर सबको बल देना होगा। नमो ने कहा कि अगर मगर से बात नहीं चलेगी। देश और दुनिया के अनेक स्वार्थी तत्व हमारे अभियान में रुकावट डालेंगे। कभी कंट्री प्राइड की बात होगी तो कभी कारपोरेट प्रतिद्वंद्विता होगी। ऐसी हर कोशिश को नाकाम करना होगा। तभी जाकर टीकाकरण का ये अभियान सफल होगा। जैसे कोरोना को रोकने के लिए हम सब मिलकर लड़े वैसे ही टीकाकरण को सफल बनाने के लिये भी हम सब को एक साथ आना होगा। जिससे हम दुनिया को दिखा सके कि भारत ही एक ऐसा देश है जो कोरोना को हराने में सबसे पहले सफल हो सका है।

कोरोना टीकाकरण को लेकर भारत की तैयारी पुख्ता है और इस बाबत वैक्सीन भी अब देश के बड़े शहरो में पहुंचे लगी है। देश के 14 शहरो में ये दवा पहुंच भी गई है। सरकार की माने तो विमान के जरिये करीब 16 लाख से अधिक वैक्सीन पहुंचा दी गई है। यानी सरकार की तैयारी पूरी है बस देश के नागरिकों से अब अपील है कि वो नियम के साथ वैक्सीन कार्यक्रम को सफल बनाये।

Leave a Reply