प्रधानमंत्री आज चित्रकूट से दस हजार किसान उत्पादक संगठनों का करेंगे शुभारंभ

  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी आज उत्तरप्रदेश के चित्रकूट से देशभर के दस हजार किसान उत्पादक संगठनों(एफपीओ) को लॉन्च करेंगे। इन संगठनों से लघु, छोटे और भूमिहीन किसानों को एकजुट करने में मदद मिलेगी ताकि वे प्रौद्योगिकी, उत्कृष्ट बीज, उर्वरकों और कीटनाशकों सहित अपेक्षित वित्तीय साधनों की कमी जैसे मुद्दों से सामूहिक रूप से निपट सकें और उनकी आजीविका तेजी से बढ़ सके। गौरतलब है की देश में छोटे और सीमांत किसानों की संख्या लगभग 86 प्रतिशत हैं, जिनके पास देश में 1.1 हेक्टेयर से कम औसत खेती है।

कल नई दिल्ली में संवाददाताओं से बातचीत में कृषि मंत्री नरेन्द्र सिंह तोमर ने कहा कि ये किसान उत्पादन संगठन किसानों के जीवन में क्रान्तिकारी बदलाव लायेंगे।

श्री तोमर ने कहा कि पधानमंत्री इस अवसर पर विभिन्न राज्यों के किसानों को किसान क्रेडिट कार्ड भी सौंपेंगे। उन्होंने कहा कि देश के विभिन्न स्थानों पर 25 लाख किसान क्रेडिट कार्ड वितरित किये जायेंगे। श्री तोमर ने कहा कि फिलहाल देश के छह करोड़ पचास लाख लोगों के पास किसान क्रेडिट कार्ड हैं।

पीएम-किसान के एक साल पूरे

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने उत्तर प्रदेश के गोरखपुर से 24 फरवरी, 2019 को इस योजना की औपचारिक शुरुआत की थी। जिसमें किसानों को सहयोग के रुप में तीन किश्तों में 6000 रुपये दिए जाने की घोषणा की गई थी। सरकारी आंकड़ों के अनुसार बीते एक साल में 8 करोड़ 46 लाख किसानों को इस योजना का लाभ मिला है।

केंद्र की नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) सरकार की महत्वाकांक्षी योजना प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि (PM-KISAN) के तहत अब तक लाभार्थी किसानों के बैंक खाते में केंद्र सरकार द्वारा अब तक 50,850 करोड़ रुपये की धनराशि हस्तांरित की जा चुकी है। इस योजना की शुरूआत के दौरान सिर्फ 2 हेक्टेयर तक की कृषि योग्य भूमि रखने वाले सभी छोटे और सीमांत किसानों के परिवारों को शामिल किया गया था। 01 जून 2019 को इसके दायरे को विस्तारित करके इसमें देश के सभी खेतिहर किसानों को शामिल कर लिया गया।

बुंदेलखंड एक्स्प्रेस-वे की आधारशिला

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी आज बुंदेलखण्ड एक्सप्रेस-वे की आधारशिला भी रखेंगे। यह एक्सप्रेस-वे केन्द्र सरकार द्वारा फरवरी 2018 में घोषित उत्तर प्रदेश रक्षा औद्योगिक गलियारे का हिस्सा होगा।

इस एक्सप्रेस-वे का निर्माण राज्य सरकार कर रही है और यह चित्रकूट, बांदा, हमीरपुर और जालौन जिलों से होकर गुजरेगा। इससे बुंदेलखण्ड क्षेत्र आगरा-लखनऊ एक्सप्रेस-वे और यमुना एक्सप्रेस-वे के साथ दिल्ली से जुड़ जाएगा जिससे बुंदेलखण्ड क्षेत्र के विकास में तेजी आएगी। 296 किलोमीटर लंबे इस एक्सप्रेस-वे से चित्रकूट, बांदा, महोबा, हमीरपुर, जालौन, ओरैया और इटावा जिलों को लाभ पहुंचेगा।

प्रयागराज में 26,526 दिव्यांगों और बुजुर्गों को बांटेंगे जायेंगे उपकरण

प्रधानमंत्री मोदी प्रयागराज में एक विशाल वितरण शिविर में वरिष्ठ नागरिकों और दिव्यांगजनों को सहायता यंत्र और उपकरण वितरित करेंगे। इस मौके पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी प्रयागराज के 27 हजार दिव्यांगों व बुजुर्गों को उपकरण बांटेंगे। कुल सहयता यंत्र और उपकरणों का मूल्य 19 करोड़ रुपये से अधिक है। इसका लक्ष्य दिव्यांगजनों और वरिष्ठ नागरिकों के सामाजिक-आर्थिक विकास के लिए उन्हें दैनिक जीवन में उपयोग में आने वाले सहायता यंत्र और उपकरणों के जरिये सहायता प्रदान करना है।

लाभार्थियों की संख्या के लिहाज से यह अब तक का सबसे बड़ा वितरण शिविर होगा। प्रयागराज में एक साथ इतने लोगों को सहायता उपकरण बांटे जाने का वर्ल्ड रिकॉर्ड भी बनेगा। इस कार्यक्रम में पीएम मोदी के साथ ही यूपी की गवर्नर आनंदी बेन पटेल, सीएम योगी आदित्यनाथ और डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्य भी मौजूद रहेंगे।

PC – Google

  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •