प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की कैबिनेट 2.0 – क्या अलग, क्या ख़ास

PM Narendra Modi Oath Ceremony

कल 30 मई को नरेन्द्र मोदी ने अपने द्वितीय कार्यकाल के लिए प्रधानमंत्री पद की शपथ ली| उनके साथ-साथ 57 अन्य मंत्रियों ने भी पद और गोपनीयता की शपथ ली| इनमें 24 कैबिनेट मंत्रालय, 24 राज्य मंत्रालय, और 9 स्वतंत्र प्रभार संभालेंगे| विभागों के बंटवारे का खुलासा अभी तक नहीं हुआ है, लेकिन जैसे चेहरे मंत्रिमंडल में शामिल हुए हैं उस से ये सरकार पिछली अन्य सभी सरकारों से बदली-बदली से नजर आती है|

क्या खास है इस मंत्रिमंडल में

new Council of Ministers
Photo Courtesy KBK

वरीयता को प्राथमिकता

इस सरकार में अनुभव और वरीयता को प्राथमिकता दी गयी है| एक ओर जहाँ पिछली कैबिनेट से कई मंत्री वापस इस नयी कैबिनेट में आये, वहीँ कई पूर्व मंत्रियों को जगह नहीं मिली| राजनाथ सिंह, नितिन गडकरी, डीवी सदानंद गौड़ा, निर्मला सीतारमण, स्मृति ईरानी, रविशंकर प्रसाद, और पीयूष गोयल जैसे अनुभवी चेहरे दुबारा मंत्रिमंडल में शामिल हुए|

वहीँ पूर्व कैबिनेट में से 13 मंत्रियों को जगह नहीं मिली| सुषमा स्वराज और अरुण जेटली जैसे वरिष्ठ नेताओं ने स्वास्थ्य कारणों से इस बार कोई पद नहीं लिया| इसके अलावा महेश शर्मा, सुरेश प्रभु, राज्यवर्धन सिंह राठौर, मेनका गांधी, उमा भारती, जयंत सिन्हा, और रामकृपाल यादव आदि मुख्य नाम हैं, जिन्हें इस बार मंत्रिमंडल में जगह नहीं मिली|

अच्छे कार्य को तरजीह

मोदी मंत्रिमंडल 2.0 में अच्छे काम करने वाले मंत्रियों को तरजीह दी गयी| निर्मला सीतारमण, स्मृति ईरानी, रविशंकर प्रसाद, पीयूष गोयल और नितिन गडकरी जैसे चेहरे जिन्होंने अपने मंत्रालय में बहुत ही बेहतरीन काम किया है, उन्हें फिर से मंत्रिमंडल में जगह मिली|

पेशेवराना तरीका

बीजेपी एक पार्टी की तरह बहुत ही अलग ढंग से कार्य करती है, इसका नमूना चुनाव के पहले ही दिख गया था| सुषमा स्वराज ने चुनाव के पहले ही चुनाव लड़ने से इनकार किया था, अरुण जेटली ने स्वास्थ्य कारणों से कोई पद लेने से लिखित रूप में इनकार किया| एक ऐसे समय में, जब दूसरी पार्टियों में लोग पद और प्रतिष्ठा के लिए पागल हैं वहाँ इस सरकार में ऐसे चेहरे अपनी मर्जी से पद ठुकरा रहे हैं|

दूसरी और सबसे आश्चर्यजनक बात इस मंत्रिमंडल में एस जयशंकर जैसे चेहरे का शामिल होना था| एक राजनयिक को मंत्रिमंडल में सीधे कैबिनेट मंत्रालय देना, इस सरकार के पेशेवराना रवैये को दर्शाता है|

Council Of Minister Coming Soon

अभी कुछ देर में विभागों का बंटवारा संपन्न होगा, देखते हैं किसको क्या मिलता है|