जनऔषधि दिवस के मौके पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आज लाभार्थियों से करेंगे बात

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी आज 7 मार्च को जनऔषधि दिवस (Janaushadhi Diwas) के मौके पर नई दिल्ली से वीडियो कांफ्रेंसिंग के माध्यम से जनऔषधि दिवस समारोह में भाग लेंगे। प्रधानमंत्री मोदी 7 जन औषधि परियोजना केंद्रों के साथ संवाद करेंगे। इस योजना की उपलब्धि को मनाने के लिए पूरे भारत में 7 मार्च को जन औषधि दिवस मनाया जाता है। प्रधानमंत्री चुनिंदा स्टोर के मालिकों और लाभार्थियों से बातचीत करेंगे।

केंद्रीय रसायन और उर्वरक मंत्री श्री डी वी सदानंद गौड़ा उत्तर प्रदेश के वाराणसी में प्रधानमंत्री भारतीय जन औषधि परियोजना केंद्र में भाग लेंगे। केंद्रीय जहाजरानी और रसायन तथा उर्वरक राज्यन मंत्री श्री मनसुख लक्ष्मणभाई मंडाविया जम्मू और कश्मीर के पुलवामा में प्रधानमंत्री भारतीय जन औषधि परियोजना केंद्र में भाग लेंगे। श्री गौड़ा ने सभी केन्द्रीलय मंत्रियों से जन औषधि दिवस समारोह में भाग लेने का अनुरोध किया है, ताकि जन औषधि केन्द्रों की दवाइयों के प्रति लोगों का विश्वा स बढ़ाया जा सके और योजना के बारे में जागरूकता पैदा की जा सके।

बता दे की जन औषधि केंद्र को विश्व की सबसे बड़ी खुदरा दवा श्रृंखला माना जाता है। भारत के 728 जिलों में से 700 जिले में जनऔषधि केंद्र शुरू किए गए हैं। फिलहाल, यहां 6200 जनऔषधि केंद्र हैं जहां से विभिन्न बीमारियों के लिए दवाएं व सर्जिकल औजार उपलब्ध कराए जाते हैं। इन केंद्रों में वित्त वर्ष 2019-20 में 390 करोड़ रुपये से अधिक की कुल बिक्री हुई और इससे सामान्य नागरिकों के लिए कुल 2200 करोड़ रुपये की बचत हुई। 1 मार्च से 7 मार्च के बीच जनऔषधि सप्ताह मनाया जा रहा है।

क्या है जन औषधि योजना

प्रधानमंत्री जन औषधि परियोजना की घोषणा प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने की थी, ताकि रियायती दरों पर सभी को विशेषकर गरीब और वंचित लोगों को उच्चम गुणवत्ता् की दवाइयां उपलब्ध, कराई जा सकें। जन औषधि योजना प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ‬1 जुलाई 2015 को शुरु की थी। इस योजना में सरकार हाईक्वालिटी वाली Generic दवाईयों के दाम बाजार मूल्य से कम पर देने की योजना है। सरकार द्वारा ‘जन औषधि स्टोर’ बनाए गए हैं, जहां जेनरिक दवाईयां उपलब्ध करवाई जाती हैं।

ब्यूरो ऑफ फार्मा पीएसयू ऑफ इंडिया (बीपीपीआई) के मुताबिक इन केंद्रों में अबतक 800 से ज्यादा दवाएं और 150 से ज्यादा मेडिकल इक्यूपमेंट उपलब्ध हैं।