रिक्शा चालक मंगल केवट से मिले पीएम मोदी, दिया था बेटी की शादी का न्योता

  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

Prime Minister Narendra Modi met Mangal Kevat

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को अपनी बेटी के शादी में शामिल होने के लिए निमंत्रण देने वाले मंगल केवट पीएम मोदी की बधाई सन्देश वाला पत्र पाकर ही फूलें नहीं समां रहे थे कि 16 फरवरी को अपने संसदीय क्षेत्र वाराणसी में एक दिवसीय दौरे के दौरान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रिक्शा चालक मंगल केवट से मुलाकात की। मुलाक़ात के बाद वाराणसी के रिक्शा चालक मंगल खेवट की खुशी का ठिकाना न रहा। बिटिया-दामाद को साथ न लाने के बारे में भी नरेंद्र मोदी ने मंगल केवट से पूछा। पीएम ने मंगल केवट से उसके और उसके परिवार का कुशल-क्षेम पूछा और साथ ही स्वच्छ भारत अभियान में केवट के प्रयासों की सराहना भी की। बताते चलें कि पीएम मोदी से प्रभावित होकर मंगल केवट ने अपने गांव में गंगा के किनारों को खुद साफ करने का काम किया है।

गौरतलब है कि अपने व्यस्त कार्यक्रम के बावजूद पीएम नरेंद्र मोदी वाराणसी के दौरे पर आए तो वह मंगल केवट से मिलना नहीं भूले। अधिकारियों के जरिए संदेश भेजकर मोदी ने मंगल केवट को बड़ा लालपुर स्थित हस्त कला संकुल बुलवाया। वहां पहुंचने पर पीएम मोदी ने हाथ जोड़कर मंगल केवट का अभिवादन किया और अपने साथ बैठाया। 4 से 5 मिनट की बातचीत में पीएम ने हालचाल जानने के बाद मंगल केवट से पूछा, ‘बिटिया दामाद को नहीं लाए? शादी अच्छे से बीत गई न?

बताते चलें कि एक रिक्शाअ चालक को प्रधानमंत्री ने बधाई संदेश भेजा तो खूब सुर्खिंयां भी बनीं। मंगल केवट की बेटी की शादी से पहले प्रधानमंत्री की तरफ से एक पत्र भेजा गया, जिसमें उन्होंने मंगल केवट और उनके परिवार को अपना आशीर्वाद दिया था। पीएम मोदी द्वारा गोद लिए गए डोमरी गांव के रहने वाले केवट ने प्रधानमंत्री कार्यालय (पीएमओ) को एक निमंत्रण कार्ड भेजा था और उनसे आग्रह किया था कि वह 12 फरवरी को अपनी बेटी की शादी के लिए आएं।

हालांकि, रिक्शा चालक की बेटी की शादी में तो प्रधानमंत्री मोदी नहीं आए, लेकिन उनकी तरफ से भेजे गए पत्र को पाने के बाद परिवार की खुशी सातवें आसमान पर थी। केवट ने बताया कि हमने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को पहला निमंत्रण भेजा था। मैंने इसे व्यक्तिगत रूप से दिल्ली जाकर पीएमओ में दिया था। इसके बाद 8 फरवरी को हमें पीएम मोदी का अभिनंदन पत्र मिला, जिसने हमें उत्साहित किया है। मंगल केवट और उनकी पत्नी रेणु देवी ने कहा कि वे मोदी के वाराणसी के दौरे के समय उनसे मिलना चाहती थीं।

अब मंगल बताते हैं कि पीएम की चिट्ठी आने और मुलाकात की खबर से अब तमाम लोग उनसे मिलने आ रहे हैं। मंगल ने कहा- इतनी व्यस्तता के बाद भी मोदीजी ने आशीर्वाद वाली चिठ्ठी भेजकर हम लोगों को अपना बना लिया। इसके बाद मुझसे मुलाकात भी की। हर दिन गंगा किनारे सफाई करने पर लोग मुझे पागल समझते थे, अब वही लोग मुझसे मिलने आ रहे हैं। मोदीजी ने मेरी बेटी को आशीर्वाद दिया, यह मेरे लिए सबसे बड़ा तोहफा है।

 


  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •