आज नौसेना दिवस के मौके पर प्रधानमंत्री मोदी और राष्ट्रपति कोविंद ने दी शुभकामनाएं

  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

Indian Navy Day | PC - Twitter

राष्ट्रपति राम नाथ कोविंद और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज नौसेना दिवस के मौके पर बुधवार को सभी नौसेना कर्मियों को शुभकामनाएं दी। कोविंद ने ट्विटर पर अपने शुभकामना संदेश में लिखा, “नौसेना दिवस के मौके पर भारतीय नौसेना के सभी अधिकारियों और जवानों को मेरी हार्दिक शुभकामनाएं। हमारी समुद्री सीमाओं की रक्षा करने, हमारे व्यापारी जलमार्गों को सुरक्षित करने और आपातकाल में नागरिकों को सहायता उपलब्ध कराने के लिए आपकी प्रतिबद्धता पर राष्ट्र को गर्व है। आप ऐसे ही जल क्षेत्र में राज करते रहें। जय हिंद।”

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बुधवार को नौसेना दिवस के अवसर पर नौसैन्य कर्मियों को बधाई दी और कहा कि उनकी सेवा एवं उनके बलिदान ने भारत को सुरक्षित बनाया है। मोदी ने ट्वीट कर कहा, “नौसेना दिवस के मौके पर हमारे बहादुर जवानों को सलाम। उनकी बहुमूल्य सेवा और बलिदान ने हमारे राष्ट्र को मजबूत और सुरक्षित बनाया है।” उन्होंने भारतीय नौसैन्य इतिहास पर एक छोटा सा वीडियो भी पोस्ट किया। जिसमें भारतीय नौसेना समुद्र तट पर अपनी ताकत दिखाती नजर आ रही है।

रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने भी ट्विटर पर लिखे अपने शुभकामना संदेश में कहा, “नौसेना दिवस के मौके पर भारतीय नौसेना के जवानों और उनके परिजनों को हार्दिक बधाई देता हूं। राष्ट्र को भारतीय नौसेना पर अटूट विश्वास और गर्व है। यह भारत की समुद्री शक्ति की प्रतीक है। हम उनके अदम्य साहस और वीरता को सलाम करते हैं।”

उल्लेखनीय है कि चार दिसंबर 1971 में ‘ऑपरेशन ट्राइडेंट’ के दौरान पीएनएस खैबर सहित चार पाकिस्तानी जहाजों को नष्ट करने की उपलब्धि के उपलक्ष्य में हर 4 दिसंबर को नौसेना दिवस मनाया जाता है।

Chief of the Naval Staff pay homage at the NationalWar Memorial on the occasion of Navy Day

नेवी डे पर नेवी चीफ एडमिरल करमबीर सिंह ने नेशनल वॉर मेमोरियल में पुष्पांजलि अर्पित की है। नौसेना दिवस की पूर्व संध्या पर नौसेना प्रमुख एडमिरल करमबीर सिंह ने अपने पारंपरिक वार्षिक संवाददाता सम्मेलन में नौसेना की चुनौतियों और उसके आधुनिकीकरण से जुडे तमाम सवालों का खुलकर जवाब दिया। उन्होंने देश को भी आश्वस्त किया कि नौसेना राष्ट्रीय सुरक्षा से जुड़ी चुनौतियों से निपटने के लिए पूरी तरह तैयार है।

नौसेना प्रमुख ने कहा कि नौसेना की दीर्घकालीन योजना है कि उसके पास तीन विमानवाहक पोत हों। साथ ही कहा कि स्वदेश में विकसित पहला विमानवाहक पोत 2022 तक पूरी तरह परिचालन में आ जाएगा और उसके पास मिग-29के विमान होगा।

 


  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •