रिटायर हो रहे सांसदों से बोले पीएम, लौट कर आना, आपकी हर चीज नोटिस करता हूं

संसद के उच्च सदन राज्य सभा से 72 सांसद रिटायर हो गये हैं। इन नेताओं में सुब्रमण्यम स्वामी, जयराम रमेश, कपिल सिब्बल, पी. चिदंबरम और एके एंटनी जैसे 71 नेता शामिल हैं। इस मौके पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी  ने राज्य सभा को संबोधित किया और रिटायर हो रहे सांसदों के योगदान को याद किया। उन्होंने कहा कि मुझे विश्वास है कि आज जो साथी यहां से विदाई लेने वाले हैं उनसे हमने जो सीखा है उसे आगे बढ़ाने में इस सदन की पवित्र जगह का हम जरूर उपयोग करेंगे ताकि देश की समृद्धि हो।

आपकी हर चीज नोटिस करता हूं: पीएम मोदी

सांसदों को संबोधित करते हुए पीएम नरेंद्र मोदी ने कहा कि आपकी अच्छी बातों को जरूर नोटिस करता हूं। उन्होंने कहा, ‘ आप सबकी  अच्छी-अच्छी बातें बताऊंगा। हमेशा आपकी जो अच्छी बातें हैं उसे मैं जरूर नोटिस करता हूं.’ पीएम मोदी ने कहा, ‘आज जो साथी विदाई लेने वाले हैं, उनसे हम सब जो भी सीखे हैं। आज हम भी संकल्प करें कि उसमें से जो भी उत्तम और सर्वश्रेष्ठ हैं, उसको आगे बढ़ाने में इस सदन की पवित्र जगह का हम जरूर उपयोग करेंगे जो देश की समृद्धि में काम आएगा।’ इसके साथ उन्होने बोला कि आप फिर से एक बार इस सदन में आये इसकी कामना भी मैं करता हूं तो वही आजादी के अमृत महोत्सव के इस दौर में आप जहां पर भी जाये वहां देश के विकास के लिए काम करते रहेंगे ऐसा मैं कामना करता हूं।

अनुभव में हैं समस्याओं के समाधान के सरल उपाय

इसके साथ साथ पीएम मोदी ने आगे कहा, ‘अनुभव से जो प्राप्त हुआ होता है, उसमें समस्याओं के समाधान के लिए सरल उपाय होते हैं। अनुभव का मिश्रण होने के कारण गलतियां कम से कम होती हैं। अनुभव का अपना एक महत्व होता है। जब ऐसे अनुभवी साथी सदन से जाते हैं तो बहुत बड़ी कमी सदन को, राष्ट्र को होती है।’ उन्होंने आगे कहा, ‘ये आजादी का अमृत महोत्सव है। हमारे महापुरुषों ने देश के लिए बहुत कुछ दिया, अब देने की जिम्मेदारी हमारी है। अब आप खुले मन से एक बड़े मंच पर जाकर आजादी के अमृत महोत्सव के पर्व को माध्यम बनाकर प्रेरित करने में योगदान कर सकते हैं।

 

वैसे लोकसभा और राज्यसभा का इस साल का बजट सत्र का आज आखरी दिन भी है। लेकिन 2022 के बजट सत्र में कामकाज की एक नई व्यवस्था सत्तापक्ष और विपक्ष दोनो की तरफ से देखी गई। तभी हंगामे से ज्यादा काम इस सत्र में हो सका।