बच्‍चों की प्रत‍िभा देख दंग रह गए पीएम मोदी

पीएम मोदी ने प्रधानमंत्री राष्ट्रीय बाल पुरस्कार विजेताओं के साथ बातचीत की। इस दौरान पीएम मोदी ने विजेताओं को डिजिटल सर्टिफिकेट और उनके बैंक खाते में 1 लाख पुरस्कार की राशि भी जमा करी। इन पुरस्कारों के लिए देशभर से 61 बच्चों को चुना गया था। इसमें 32 बच्चों को पिछले साल के लिए और 29 बच्चों को इस साल PMRBP 2022 के लिए चुना गया। पीएम इस दौरान बच्‍चों की प्रत‍िभा देख दंग रह गए और उन्‍होंने बच्‍चों से सवाल भी पूछे।

जब कर्नाटक की रमोना परेरा की मां को पीएम मोदी ने किया सलाम

पीएम मोदी ने कर्नाटक की रमोना परेरा से जब पूछा कि उन्हे डांस में दिलचस्‍पी कैसे पैदा हुई। इस पर रमोना ने बताया कि मां ने काफी परेशानियां उठाकर उन्‍हें आगे बढ़ने को प्रेरित किया। रमोना के पिता इस दुनिया में नहीं हैं। पीएम मोदी ने रमोना की मां को सलाम करते हुए कहा कि ‘तुम टूटे कांच पर कार्यक्रम करती हो, आग पर कार्यक्रम करती हो। सुनकर ही डर लगता है, कैसे कर लेती हो?’ रमोना ने बताया कि पहले मां ने नाचकर दिखाया फिर उन्‍हें सिखाया। इस पर पीएम ने उनकी मां को प्रणाम करते हुए बोला कि आज ये बच्ची जो कुछ है वो आपकी तपस्या का ही नतीजा है।

Image

ब‍िहार के धीरज ने मगरमच्‍छ के चंगुल से अपने भाई को बचाया

बिहार के धीरज कुमार को ‘वीरता’ श्रेणी में राष्‍ट्रीय बाल पुरस्‍कार मिला है। पीएम मोदी से बातचीत में धीरज ने बताया कि वह भैंस नहलाने गए थे तभी भाई को मगरमच्‍छ ने पकड़ लिया। धीरज ने यहां जान की परवाह न करते हुए भाई को मगरमच्‍छ के चंगुल से बचाया। इस पर पीएम मोदी ने पूछा कि आपका पसंदीदा सुपरहीरो कौन है। इस पर धीरज ने किसी का नाम नहीं लिया। लेकिन फौज में शामिल होकर देश की रक्षा करने की बात कही। इसके बाद पीएम ने कहा कि आप जैसे बालक ऐसी घटनाओं में जब अपने भीतर की सारी शक्ति का उपयोग करते हुए किसी की जिंदगी बचाते हैं तो दूसरों के लिए प्रेरणा बन जाते हैं।

पीएम मोदी ने युवाओं को दिया संदेश

इस दौरान पीएम मोदी ने बच्चो से अपील करी कि वो देश को आगे ले जाने के लिए यूं ही काम करते रहे। पीएम मोदी ने बोला कि जिस तरह से देश के बच्चों ने टीकाकरण हो या स्वच्छ भारत मिशन को लेकर आगे आकर काम किया है वो बताता है कि आज का युवा हो या बच्चे सभी काफी जागरूक है। ऐसे ही देश के लिये जियें जिससे आने वाले दिनो में भारत तेजी से आगे बढ़ सके।