8 महीने बाद वाराणसी पहुंचे पीएम मोदी ने दी 1500 करोड़ से अधिक की सौगात

पीएम नरेंद्र मोदी ने करीब 8 महीने के बाद अपनी लोकसभा सीट बनारस का दौरा किया यानी कि वो कोरोना की दूसरी लहर के बीच करीब 225 दिनों बाद बनारस पहुंचे लेकिन जब वो बनारस पहुंचे तो उन्होंने बनारस के लोगों की सहूलियत के लिये कई सौगातें दी। पीएम मोदी ने 1500 करोड़ रूपये से ज्यादा की परियोजनाओं का शिलान्यास और लोकार्पण किया और बोला कि अब यूपी में बस विकासवाद हर तरफ देखा जाता है।

यूपी में अब भाई-भतीजावाद नहीं, विकासवाद

पीएम मोदी ने प्रदेश की पुरानी सरकारों पर भी निशाना साधा और मौजूदा सरकार की तारीफ की। उन्होंने कहा, ‘यूपी में सरकार आज भ्रष्टाचार और भाई-भतीजावाद से नहीं विकासवाद से चल रही है। इसीलिए, आज यूपी में जनता की योजनाओं का लाभ सीधा जनता को मिल रहा है। इसीलिए आज यूपी में नए-नए उद्योगों का निवेश हो रहा है, रोजगार के अवसर बढ़ रहे हैं। आज यूपी में कानून का राज है। माफिया राज और आतंकवाद, जो कभी बेकाबू हो रहे थे, उन पर अब कानून का शिकंजा है। बहनों-बेटियों की सुरक्षा को लेकर माँ-बाप हमेशा जिस तरह डर और आशंकाओं में जीते थे, वो स्थिति भी बदली है और प्रदेश में डर का माहौल कम हुआ है।

आधुनिक ज्ञान-विज्ञान का केंद्र बनेगी काशी

पीएम मोदी ने सीपैट सेंटर की भी आधारशिला रखी है। उन्होंने कहा, ‘काशी के पुरातन वैभव की समृद्धि ज्ञान के गंगा से भी जुड़ी हुई है। ऐसे में काशी का आधुनिक ज्ञान और विज्ञान के केंद्र के रूप में भी निरंतर विकास जरूरी है। योगी जी की सरकार आने के बाद इस दिशा में जो प्रयास हो रहे थे, उनमें और तेजी आई है। आज भी मॉडल स्कूल, आईटीआई, पॉलिटेक्निक जैसे अनेक संस्थान और नई सुविधाएं काशी को मिली हैं। आज सीपैट के सेंटर फॉर स्कीलिंग और टेक्निकल सपोर्ट की जो आधारशिला रखी गई है, वो काशी ही नहीं बल्कि पूर्वांचल के औद्योगिक विकास को भी उर्जा देगा। ऐसे संस्थान आत्मनिर्भर भारत के निर्माण के लिए कुशल युवाओं के प्रशिक्षण में काशी की भूमिका को और मजबूत करेंगे।’

 

रुद्राक्ष कन्वेंशन सेंटर की भी करी शुरूआत

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के संसदीय क्षेत्र वाराणसी में जापान और भारत की दोस्ती का नायाब नमूना रुद्राक्ष कन्वेंशन सेंटर को बनारस को समर्पित किया। इस दौरान इन्होंने कहा कि  रूद्राक्ष के बनने से शहर में सांस्कृतिक और प्रवासी भारतीय दिवस जैसे वैश्विक आयोजनों के लिए जगह की कमी नहीं रहेगी। इसके अलावा प्रदर्शनी और मेलों के साथ ही पर्यटन व कारोबार से जुड़े सरकारी आयोजन भी यहां आसानी से हो सकते हैं। इस सेंटर में एक साथ 1200 लोगों के बैठने की व्यवस्था है। हॉल को लोगों की संख्या के मुताबिक दो हिस्सों में बांटने की व्यवस्था है। पूर्णत: वातूनुकुलित सेंटर में बड़े हॉल के अलावा 150 लोगों की क्षमता का एक मीटिंग हॉल भी है। इसके अतिरिक्त यहां एक वीआइपी कक्ष और चार ग्रीन रूम भी हैं।

पीएम मोदी ने आज बनारस में जिन योजनाओं की शुरूआत की है सबसे बड़े बात ये है कि इसकी अधारशिला भी खुद मोदी जी ने रखी थी  जो ये बताती है कि अब योजना बनती है तो सही वक्त पर वो पूरी होती है। जिसका ये एक बेहद खास उदाहरण है।