विपक्ष को करारा जवाब देने के लिए पीएम मोदी ने अपनी टीम को किया तैयार

लोकसभा का मानसून सत्र शुरू हो चुका है और विपक्ष पहले ही दिन से हंगामा करके सरकार को काम नहीं करने दे रही है। इस बीच पीएम मोदी ने अपने सासदों के साथ बैठक की और विपक्ष पर जमकर बरसे उन्होंने विपक्ष पर जानबूझकर नकारात्मक माहौल बनाने का आरोप लगाया तो अपने सासंदों को लोगों के बीच जाकर हकीकत से रूबरू करवाने की बात कही।

 जनता को सत्य बताएं – पीएम मोदी

विपक्ष अगर सरकार को घेरने में लगी है तो अब विपक्ष को जवाब देने के लिये मोदी एंड टीम भी एक कदम आगे बढ़कर जवाब देने की तैयारी पर निकल चुकी है। खुद पीएम ने विपक्ष से लोहा लेने के लिये अपनी टीम को मंत्र दिया है। अपने सासंदों की बैठक में पीएम ने साफ किया है कि विपक्ष के झूठ का जवाब हमें सत्य से देना है और इसके लिये हम सभी को जनता के बीच में जाकर सरकार के कामकाज की सत्यता को बताना होगा। बकायदा इसके लिये रणनीति भी तैयार की गई है जिसके चलते 24- 25 जुलाई को सभी सासंद पीडीएस दुकानों का दौरा करके कोरोना काल में मुफ्त में पहुंचाई जा रही राशन की व्यवस्था के बारे में जानकारी लेंगे तो राशन लेने वाले लोगों को सरकार के काम काज के बारे में भी बताएंगे। गौरतलब है कि मोदी सरकार नवबंर तक देश के 80 करोड़ लोगों में फ्री में राशन दे रही है। इसके साथ साथ पीएम ने वैक्सीनेशन को लेकर लोगों को जागरूक करने के लिये भी आगे आकर काम करने की बात कही।

विपक्ष पर जोरदार प्रहार करने की तैयारी

जैसा सब लोग अच्छी तरह से जानते हैं कि मौका कोई भी हो पीएम मोदी सीधे मोर्चा खुद संभालते हैं। संसद में विपक्ष के हंगामे के खिलाफ भी कुछ ऐसा दिख रहा है। अपने संसदीय दल की बैठक में पीएम मोदी ने विपक्ष पर तंज कसा और बोला कि वो लगातार खत्म हो रही है लेकिन इसके बावजूद भी उसे चिंता अपनी नहीं बल्कि हमारी है, जो सोचकर भी हंसी आती है। पीएम ने विपक्ष पर प्रहार करते हुए बोला कि जिस तरह से कोरोना की दूसरी लहर के वक्त विपक्ष ने लोगों के बीच भ्रम फैलाया, ये सब जानते हैं। जबकि कोरोना हमारे लिए राजनीति नहीं, मानवता का विषय है। पहले महामारी के दौरान महामारी से कम भूख से ज्यादा लोग मरते थे, लेकिन हमने ऐसा नहीं होने दिया हमने लोगों को अच्छी स्वास्थ्य व्यवस्था देने के साथ हर तरह की सहूलियत देने का पूरा प्रयास इस दौरान किया है। जिससे देश तेजी से कोरोना से उबर रहा है।

पीएम मोदी के तेवर साफ बता रहे हैं कि संसद हो या फिर सड़क हर जगह वो विपक्ष से मोर्चा लेने के लिए तैयार हैं और खुद पीएम इसके लिये अपनी टीम को तैयार भी कर रहे हैं। ऐसे में ये कहना गलत नहीं होगा कि अगर पीएम अपनी टीम को लीड करेंगे तो फिर जीत तो उनकी पक्की है।