नकारात्मकता को खत्म करने की वैक्सीन है पीएम मोदी

कोरोना काल के बाद जिस तरह से दुनिया का माहौल बदला है उसमें आगे बढ़ने के लिये युवाओं में जोश होना बहुत जरूरी है। कोरोना के चलते विदेश के ही नही देश युवाओं में भी एक नकरात्मकता का भाव उभर रहा है। लेकिन पीएम मोदी इस भाव को खत्म करने और युवाओं में पहले से ज्यादा जोश में लाने के लिये लगातार अपील कर रहे है। इसी क्रम में पीएम मोदी ने एकबार फिर से  देश के युवाओं से अपील की है कि वे अपने अंदर के विश्वास को हमेशा बनाए रखें।

चुनौतियों से घबराएं नहीं बल्कि उसे स्वीकार करें

पीएम मोदी ने आजादी के दौर को याद दिलाते हुए युवाओं से बोला कि वो कोरोना काल के वक्त उपजी चुनौतियों से घबराएं नही बल्कि उसे स्वीकार करके उससे निपटने का तरीका खोजे जिससे दुनिया में आई इस विपदा को हराया जा सके। पीएम ने युवाओं से कहा कि हम देश की आजादी के लिए नही लड़ सके है लेकिन देश को इस विपदा के लिये वैसे ही लड़े जैसे हमारे देश के स्वतंत्रता आंदोलन के वक्त लोग अंग्रेजो के खिलाफ एकजुट हो कर लड़ रहे थे।

अपने प्रोफेशनलिज्म से भारत को बनाएं आत्मनिर्भर

इसके साथ साथ पीएम मोदी युवाओं से आह्वान किया कि वो अपने प्रोफेशनलिज्म भारत को मजबूत करे एक ऐसे आत्मनिर्भर भारत का निर्माण करे जो आने वाले दिनो में दुनिया में सबसे आगे हो जिसकी कामयाबी के किस्से समूचे विश्व में गूंजे। पीएम मोदी ने बोला कि बस इसके लिए हमे पूरी ईमानदारी के साथ बेहनत करनी होगी और ये सोच बदलनी होगी कि कुछ नही बदल सकता है क्योकि हम बहुत कुछ बदल सकते है बस नीयत साफ होनी चाहिये। कल आपका इंतजार कर रहा है इतिहास बनाने के लिये बस आप बिना थके बिना रूके इस काल में तेजी के साथ खुद और देश के लिए खप जाने के लिए तैयार हो जाये फिर देखिये कामयाबी कैसे आपके कदम चूमती है।

 

बिजनेस शुरू करने के लिए सरकार ने बनाया फंड

युवाओं से बात करते हुए पीएम ने बोला की पहले का दौर अलग था जब आप कुछ नया करना चाहते थे और आपको सरकारी मदद मिलने में मुश्किल होती थी लेकिन आज का दौर बदल चुका है। सरकार ने आप जैसे युवाओं के लिये खास फंड की व्यवस्था कर रखी है। आप खुद का बिजनेस खड़ा करना चाहते है तो सरकार आपके साथ है। इसी क्रम में तो हमने आत्मनिर्भर योजना के तहत कई बड़े ऐसान किये है। ऐसे में आप एक कदम चले सरकार आपके साथ दो कदम आगे चलते के लिये तैयार है।

मोदी जी के भाषण को सुनकर ये लगता ही नही की कोई नेता देश को संबोधित कर रहा है बल्कि ये लगा है कि जैसे कोई अपने घर का ही सदस्य हमारे अंदर जोश भर रहा है और आह्वान कर रहा है कि चुनौती कितनी भी कठिन क्यो न हो जीत हमारी ही होगी। बस हम इसके लिये इमानदारी से मेहनत करे जैसे खुद पीएम मोदी आज देश को सदी की सबसे बड़ी आपदा से उबारने में लगे है।

Leave a Reply