2100 करोड़ की वैट(VAT) चोरी घोटाले को उजागर करने वाले को पीएम मोदी ने दी बधाई

अगर एक तरफ पीएम मोदी उन अफसरों पर सख्त होते हैं जो काम नही करते तो दूसरी तरफ उन अधिकारियों की तारीफ भी खूब जमकर करते है जो अपने पद में रहकर जनसेवा और बेहतर काम करते है। ऐसे ही हिमाचल के एक आबकारी एवं कराधान विभाग में काम करने वाले अधिकारी जीडी ठाकुर की पीएम मोदी खूब जमकर कर रहे है। क्योंकि जीडी ठाकुर ने देश में सबसे बड़े वैट चोरी के मामले को ही नहीं पकड़ा बल्कि कई घोटालों से भी पर्दा उठा चुके है।

जब एकाएक जन्मदिन के मौके पर आया पीएम मोदी ई-मेल

करोड़ो का वैट घोटाला का पर्दाफाश करने वाले जीडी ठाकुर के लिए उनकी 50वीं सालगिराह काफी खास भी रही तो थोड़ी चौकाने वाली भी। क्योंकि इस दिन पीएम मोदी ने उन्हे जन्मदिन की  बधाई दी और उनकी खूब जमकर तारीफ करी। पीएम मोदी ने ई-मेल के जरिए जीडी ठाकुर को बधाई दी और ग्रिटिंग कार्ड भेजा है। पीएम ने ग्रिटिंग कार्ड में लिखा है,”प्रिय जीडी ठाकुर, आपको जन्मदिन की बधाई, यह वर्ष आपके जीवन में और अधिक खुशियां और सफलता लेकर आए।”

2100 करोड़ रुपये का वैट चोरी घोटाला किया था उजागर

हिमाचल में इंडियन टैक्नोमैक कंपनी द्वारा किए गए 2100 करोड़ रू. के वैट चोरी के घोटाले का पर्दाफाश जीडी ठाकुर ने किया था, जैसे जैसे जांच आगे बढ़ी तो ये घोटाला 6 हजार करोड़ को पार कर चुका है। बैट चोरी का ये देश का सबसे बड़ा मामला था, इसके अलावा भी कई घोटालों का पर्दाफाश कर चुके हैं। इंडियन टैक्नोमैक कंपनी मामले पर इन्होंने सीआईडी में एफआईआर करवाई, मामले की जांच ईडी और सीबीआई भी कर रही है, इस जांच में जुटे कुछ अधिकारियों को राष्ट्रपति मैडल समेत कई अवॉर्ड मिले हैं। इससे पहले वो 12 साल तक प्राइवेट जॉब में थे।

इससे ये तो साफ पता चलता है कि पीएम मोदी सिर्फ पीएमओ के अधिकारों पर नजर नहीं रखते बल्कि वो समूचे देश के अफसरों पर भी पूरी तरह से ध्यान रखते है। इसीलिये तो पीएम मोदी को लोक पीएम की जगह प्रधानसेवक कहते है।