पीएम मोदी का दावा बीजेपी पूर्ण बहुमत के साथ फिर आ रही है, पढ़े इंटरव्यू की ख़ास बातें

pm_modi-sudhir_chaudhary

बीते गुरुवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने जी न्यूज के साथ कई अहम् मुद्दों पर बातचीत की| प्रधानमंत्री ने इस दौरान राजीव गांधी के अपमान के सवाल पर जवाब देते हुए कहा, मैंने उनका कोई अपमान नहीं किया, सिर्फ कुछ सवाल उठाए हैं, जिनका उन्हें जवाब देना होगा| जिस कांग्रेस ने अपने ही नेता नरसिम्हा राव का अपमान किया, अगर वह मान सम्मान की बात न करे तो ही अच्छा है| प्रधानमंत्री ने इंटरव्‍यू के दौरान एक बार फिर से इस बात का दावा किया कि 23 मई को देश में फिर से बीजेपी की सरकार बनेगी| आइये जानते है कि प्रधानमंत्री ने और सवालो के जवाब में क्या कहा:

प्रश्न : 23 मई पर आपके विरोधी आपकी विदाई के सपने देख रहे हैं?

विरोधी लोग क्या सोच रहे हैं मुझे नहीं मालूम| विपक्षी दल ख्वाबों में खोये है, वो खोए रहें| जहां तक चुनाव का सवाल है. मैं सारे देश का भ्रमण कर चुका हूं| पिछले 5 साल मैं दफ्तर में कैद नहीं था| कोई साटरडे-संडे नहीं था| ये मैं अपने अनुभवों के आधार पर बता सकता हूं कि जनता देश में मजबूत, निर्णायक सरकार चाहती है| 2014 में लोगों में कौतूहल था| 2019 में उन्होंने मोदी को निकट से देखा है| जाना है| मेरा काम बोल रहा है| आम तौर पर सरकारें जो चलती थीं वो समझते थे कि कानून बना दिया और डिलिवरी के लिए राज्यों पर निर्भर रहती थी| लेकिन मैंने लाभार्थियों के साथ बात की इन सारे अनुभवों के आधार पर मेरा पक्का विश्वास है कि देश की जनता ने 2019 में बीजेपी को पहले से ज्यादा सीट देने का फैसला किया है| साथ एनडीए को ज्यादा सीटें देने का फैसला किया है| जिन राज्यों में कम सीटें थीं हमें वहां भी सीटों का इजाफा होगा| जहां तक बोरिया बिस्तर का सवाल है तो मैं हर चीज के लिए तैयार हूँ|

प्रधानमंत्री ने कहा, मेरी जिंदगी एक झोले में होती है| उनको ख्वाब का मजा लेने दीजिए| अगर आपने कहा कि मोदी जी ने कहा कि वो रहने वाले हैं तो उनकी नींद डिस्टर्ब हो जाएगी|

प्रश्न: 2019 एक साइलेंट इलेक्शन है, आप किस लहर पर दावा करते हैं?

मीडिया वाले जो हमारा एनालिसिस करते हैं, कभी अपना भी एनालिसिस करें| हमारा हिसाब मांगा जाता है उनका कोई हिसाब नही मांगता| 23 के बाद ही चर्चा करते हैं| देश की जनता बोलेगी औऱ ईवीएम बोलेगी|

प्रश्न: परिणाम आपके अनुरूप आए तो ईवीएम पर सवाल उठेंगे, इस पर क्या कहेंगे?

इसकी तैयारी तो अभी से चल रही है| जैसे कोई खिलाड़ी आउट होता है तो अंपायर को देखकर गुस्सा करता है| वैसा ही ये विपक्ष वाले करने वाले हैं. कितना फेयरप्ले है| पूरी दुनिया भारत के लोकतंत्र के लिए खुश है| हम ही हैं जो खुद को कोसते हैं, जो लोग सिवाय सत्ता के नहीं रहे हैं, उनकी सोच के बाहर अगर कोई चीज सही होती है तो उन्हें गलत लगता है| हम सबको मिलकर दुनिया में लोकतंत्र की ब्रांडिंग करनी चाहिए|

प्रश्न: क्या सभी को समान बेंच मार्क पर तौला जाता है?

मेरी जिंदगी में कभी रॉन्ग साइड ड्राइविंग का गुनाह भी नहीं हुआ| मेरे जीवन में कोई FIR नहीं लिखी गई| पहली FIR 2014 में लिखी गई| पहली बार जिंदगी में झूठा केस बनाकर FIR लिखाई गई| जब मैं पहली बार नॉमिनेशन करने गया तब तय था कि रोड शो के बाद पब्लिक मीटिंग करेंगे और फिर नॉमिनेशन करूंगा| लेकिन पब्लिक मीटिंग हर बार लास्ट मोमेंट में केंसल कर दिया जाता था| मैंने किसी के ऊपर आरोप नहीं लगाया|

 821866-pm-narendra-modi-with-sudhir-chaudhary

प्रश्न: प्रियंका आपको दुर्योधन कहती हैं और सोनिया आपको मौत का सौदागर कहती हैं, क्या कहेंगे?

ये तो उनको पूछना चाहिए क्यों इस प्रकार के भाषण करते हैं|

प्रश्न: क्या ये मुद्दा रहित चुनाव है, क्या ये चुनाव में सिर्फ मोदी मुद्दा है?

चुनाव को अगर आप नेताओं भाषण और टीवी की टीआरपी के तौर देखोगे तो ये सही है, लेकिन मतदाता को समझ है कि कौन काम करता है| कौन खजाने का सदुपयोग करता है औऱ कौन अपने समय का उपयोग लोगों के लिए करता है| बहुत अरसे बाद कहा जा रहा है कि देश में प्रधानमंत्री भी होता है|

प्रश्न: विपक्ष के लिए आप इतना बड़ा मुद्दा कैसे बन गए?

मुझे खुशी होती कि अगर वो एक साथ होते, लेकिन वो मतदाता को कनफ्यूज कर रहे हैं| मोदी वेव में बचना है तो एक दूसरे का हाथ पकड़ना पड़ेगा| लेकिन वो एक दूसरे के विरोधी हैं| एक साल पहले कांग्रेस और सपा ने समझौता किया| अब कांग्रेस वोट काटने वाली पार्टी बन गई है| दिल्ली में भी यही हुआ|

प्रश्न: क्या आपकी लहर चल रही है?

ये प्रो इनकमबैंसी वेव है| 2014 का चुनाव सरकार के खिलाफ था| ये चुनाव ना पार्टी लडती है ना मोदी लड़ता है| ये चुनाव देश की जनता लड़ रही है|

प्रश्न: पिछली बार आपके वोट में जबरदस्त उछाल था, इस बार क्या ऐसा होगा?

मुझे लगता है कि इन सारी चीजों को काउंटिंग के बाद सोचना चाहिए| बीजेपी के आज सिटिंग एमपी हैं उनसे ज्यादा विक्टरी होगी| एनडीए की संख्या भी बढ़ेगी| देश के अन्य भागों में संतुलित परिणाम मिलेगा| पहले से ज्यादा वोट मिलेंगे|

प्रश्न: लोकसभा चुनाव में अगर परिणाम आपके अनुरूप नहीं आता है तो तो प्लान बी क्या है?

इस सवाल से आपको मुसीबत आ जाएगी| इसलिए ये सवाल फिजूल सवाल है| बीजेपी और एनडीए की संख्या बढ़ने वाली है| इसलिए सारे प्लान एक ही हैं| 23 तारीख को रिजल्ट आएगा और आप तैयारी कीजिए शपथ ग्रहण के लिए|

प्रश्न: गठबंधन की सरकार से मोदी कमजोर हो सकते हैं?

मैं फिर कहता हूं कि बीजेपी पूर्ण बहुमत के साथ फिर आ रही है| एनडीए के पहले से ज्यादा सांसद जीत रहे हैं| 5 साल का अनुभव दिखने वाला है| देश की समझदारी पर विश्वास करते हैं| मेरे विरोधियों के वह दाना पानी है उनको कहने दीजिए|