पीएम मोदी ने खरबों रूपए की सौगात देकर काशी की बदल दी काया

साल 2014 में जब पीएम मोदी काशी से लोकसभा का उम्मीदवार बने थे तो उन्होने बोला था कि वो ना यहां आये है और ना उन्हे यहां भेजा गया है, उनको तो मां गंगा ने बुलाया है और वैसे ये उन्होने अपनी भावना बताई थी लेकिन जब से पीएम मोदी काशी आये है तब से काशी अपनी संस्कृति के साथ भव्य और आधुनिक होती जा रही है और वो इस लिये क्योकि पीएम मोदी ने पिछले 7 सालों में यहां करीब डेढ़ खरब योजनाओं की जो सौगात दी है।

30 बार किया काशी का दौरा खरबों की योजनाओं का किया लोकार्पण

भव्य काशी और आधुनिक काशी का सपना लेकर आये पीएम मोदी ने दुनिया की इस सबसे पुरानी नगरी को जापान की धार्मिक शहर क्योटो की तरह आधुनिक बनाने का वजन दिया था जिसे आज वो पूरा भी करते हुए दिखाई दे रहे है। वैसे 2014 से 2017 तक विकास के काई कामों की शुरूआत कर दी गई थी। लेकिन जैसे ही 2017 में जैसे ही उत्तर प्रदेश में भी बीजेपी की सरकार आई तब डबल इंजन की सरकार ने विकास के कामो की रफ़्तार पकड़ ली। वाराणसी में 7 सालों में कई बदलाव देखने को मिल रहा है। पीएम मोदी के संसदीय क्षेत्र में कई बड़ी योजनाओं पर काम चल रहा है तो कई योजनाए आकार ले चुकी है। 2014 से 2021 तक सात सालों में लगभग 310 योजनाएं लोकार्पित हुई है जो क़रीब 1,58,95,28 लाख में यानी 1 खरब, 58 अरब, 95 करोड़, 28 लाख रुपए की है। वहीं 23 दिसंबर 2021 तक 162 योजनाएं का शिलान्यास किया जा चुका है जिसकी लागत लगभग 41,74,13.51 लाख  यानी  41 अरब 74 करोड़ 13 लाख है। पूर्वांचल के कई जिलों में दशकों से लंबित योजनाएं भी पूर्ण होकर लोकार्पित हो चुकी है, जो आने वाले समय में पूर्वांचल के विकास को गति प्रदान कर रही है।

Kashi Vishwanath Corridor inauguration PM Modi dream project Varanasi Kashi  Vishwanath Temple UP elections 2022 | India News – India TV

भव्य काशी विश्वनाथ मंदिर काशी की बन गई नई पहचान

पीएम मोदी के चलते ही आज काशी पूरी तरह बदल गई है जिसका जीता जागता उदाहरण काशी विश्वनाथ मंदिर है। जो कभी सकरी गलियों में होता था वो आज भव्य स्वरूप में देखा जा सकता है। इतना ही नही काशी की गलिया आज बिजली के तारों से मुक्त हो गई है तो मां गंगा में गिरने वाले नाले अब पुरानी बात हो गई है। इसी तरह गांगा में सैर के लिये घूमता क्रूज और घाटो की बदली काया देखकर हर कोई यही बोलता है कि पीएम मोदी इसबार वो उनके शहर से चुनाव लड़ जाये। शायद ही आज भारत का कोई आदमी होगा जो ये नही सोचता होगा कि पीएम मोदी उनके शहर से चुनाव लड़े जिससे वहा कि भी काया बदल जाये।

इसके साथ साथ ये भी सत्य है कि पीएम मोदी ही एक ऐसे पीएम है जिनकी लोकसभी सीट सबसे ज्यादा चमक रही है। वरना पहले के पीएम की लोकसभा सीट को देखा जाये तो आज भी वो शहर विकास के लिये तरह रहे है। ऐसे में ये कहा जाये कि पीएम मोदी आजाद भारत के सबसे बेहतर पीएम साबित हो रहे है तो गलत ना होगा।