बिश्केक में पीएम मोदी और चीनी राष्ट्रपति शी चिनफिंग की मुलाकात

chinas-xi-jinping

SCO (Shanghai Cooperation Organization) समिट के लिए बिश्केक पहुंचे भारतीय प्रधानमंत्री, नरेन्द्र मोदी ने चीन के राष्ट्रपति, शी चिनफिंग से मुलाकात की| मुलाकात के दौरान मोदी जी के साथ राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजित डोभाल भी उपस्थित थे|

प्रधानमंत्री मोदी ने प्रायोजित आतंकवाद के मामले में पाकिस्तान की संलिप्तता पर जोर दिया और कहा कि भारत चाहता है कि पाकिस्तान इसके लिए ठोस कदम उठाये लेकिन ऐसा इस दिशा में कुछ होता नहीं दिख रहा|

 Meeting with President Xi Jinping

सूत्रों के मुताबिक दोनों राष्ट्राध्यक्षों की बैठक में आतंकवाद, आपसी गठजोड़, और अन्य द्विपक्षीय और वैश्विक मुद्दों पर चर्चा हुई| इसके बारे में विस्तृत जानकारी देते हुए विदेश सचिव विजय गोखले ने कहा, “प्रधानमंत्री मोदी ने चीनी राष्ट्रपति को भारत आने का न्योता दिया है और शी चिनफिंग इसी साल भारत का दौरा करेंगे|” गोखले ने आगे बताया कि, “प्रधानमंत्री ने कहा कि दोनों देशों के बीच सुधरते संबंधों का ही नतीजा है कि लंबे समय से लंबित मामले, जैसे कि बैंक ऑफ चाइना की भारत में शाखा खोलने और मसूद अजहर को वैश्विक आतंकी लिस्ट में शामिल करने जैसे मुद्दे सुलझ रहे हैं।’

भारत और चीन के बीच आपसी संबंधों के 70 साल पुरे होने वाले हैं, इस ऐतिहासिक कड़ी में 70 इवेंट (35 भारत में और 35 चीन में) करने का भी प्रस्ताव रखा गया है|

प्रधानमंत्री के रूप में दूसरी बार कार्यभार संभालने के बाद मोदी की चीन के राष्ट्रपति से ये पहली मुलाकात थी| इस सफल और संभावनाओं से भारी मुलाकात के बारे में प्रधानमंत्री मोदी ने ट्वीट कर कहा, “राष्ट्रपति शी चिनफिंग से मुलाकात अत्यधिक सफल रही| हम दोनों देशों के बीच आर्थिक और सांस्कृतिक गठजोड़ को और पुख्ता करने की दिशा में साथ मिलकर काम करते रहेंगे|”