जनता की तपस्या को विकास कर लौटाऊंगा: पीएम मोदी

Pm-Modi-Public-Meeting

लोकसभा चुनाव के तीसरे चरण के चुनाव प्रचार में पुरे दम-ख़म से जुटे प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने आज बिहार के फारबिसगंज में जनसभा को संबोधित किया| मालूम हो की अररिया संसदीय सीट से बीजेपी उम्मीदवार प्रदीप सिंह है| जिनके पक्ष में वोट करने की अपील करने के लिए आज पीएम मोदी फारबिसगंज गए थे| प्रधानमंत्री मोदी ने जनसभा को संबोधित करते हुए अपने शुरुआत भाषण में ही कहा कि, जनता इतनी गर्मी में भी इतना प्यार दे रहे हैं इससे मुझे खुशी होती है, लेकिन मैं आपको हो रहे कष्ट को लेकर माफी मांगना चाहता हूं| मैं जनता की तपस्या को विकास के जरिए लौटाऊंगा|

फारबिसगंज में पीएम मोदी की संबोधन की खास बातें

प्रधानमंत्री मोदी ने विरोधियों पर निशाना साधते हुए कहा कि भारत तेरे टुकड़े होंगे यह कहने वालों को मैं जवाब देना चाहता हूं| और इसका जवाब जनता के जरिए देना चाहता हूं| मैंने पांच सालों में जनता की सेवा से उनका आर्शीवाद कमाया है| लेकिन परिवार भोग वाले हर जगह बंटवारा करना चाहते हैं|

Crowds-In-Public-Meeting

प्रधानमंत्री मोदी ने अपने संबोधन के दौरान कांग्रेस पर निशाना साधते हुए कहा कि वह आतंकियों के खिलाफ कार्रवाई करने के बजाए वोट बैंक की राजनीति करते रहे| लेकिन देश भक्ति क्या होती है यह सर्जिकल स्ट्राइक और पुलवामा हमले के बाद की गई कार्रवाई से पता चलता है|

वहीं, पीएम मोदी ने सीएम नीतीश कुमार के कार्यों की सराहना की और कहा कि नीतीश जी के नेतृत्व में बिहार में विकास का काम तेजी से हुआ है| वहीं, प्रदेश के विपक्षि दलों पर निशाना साधते हुए कहा वह आरक्षण के योजना से बौखला गए हैं और बिहार में लोगों के बीच अफवाह फैला रहे हैं कि आरक्षण खत्म कर दिया जाएगा|

पीएम मोदी ने कहा कि बिहार में कई प्रोजेक्टों पर काम हो रहा है| पूर्वी भारत के हिस्से को हर तरह से जोड़ने का काम चल रहा है| इसमें से कई काम पूरे हो गए हैं और कुछ पूरे भी होनेवाले हैं|

मतदान की रिपोर्ट ने उड़ाई दीदी की नींद

उधर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने पश्चिम बंगाल के बनियादपुर में भी आज एक जनसभा को संबोधित किया| बनियादपुर में जमसभा को संबोधित करते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी पर जमकर निशाना साधा| पीएम मोदी ने कहा कि, ‘इस बार पश्चिम बंगाल के लोगों ने स्पीड ब्रेकर दीदी को समझाने की ठान ली है कि जनता के साथ गुंडागर्दी करने का, उनके पैसे लूटने का और उनका विकास रोकने का नतीजा क्या होता है|’

प्रधानमंत्री मोदी ने यहां रैली को संबोधित करते हुए यह भी कहा कि, “क्या आप नहीं चाहते कि धमकी, लूट और भ्रष्टाचार की यह राजनीति खत्म हो? फिर हर गांव, शहर, नुक्कड़ और कोने से बाहर आएं और तृणमूल के आतंक के शासन को रोकने के लिए माकूल जवाब दें| 23 मई को अपना जवाब दें और बंगाल को ऊपर उठाएं|”