नए युवा मंत्रियों पर पीएम ने जताया भरोसा केंद्रीय समिति में दी जगह

मोदी कैबिनेट में युवाओं को आगे जगह देने के बाद अब पीएम मोदी ने अपनी युवा टीम को संसद की महत्वपूर्ण कमिटियों में भी खास जगह दी है। जिससे ये पता चलता है कि मोदी जी अपनी नई टीम तैयार कर रहे हैं जो आने वाले समय में अपने विरोधियों से लोहा ले सकेंगी।

 

नई टीम के हाथ मोदी देते कमान

इसमे कोई दो राय नहीं कि मोदी जी सियासत में बहुत आगे की सोचते हैं। उनके फैसलों में इसकी झलक बहुत बार देखने को मिली है। इसी क्रम में वो अपनी टीम को भी आगे लेकर चल रहे हैं। हाल में ही मोदी मंत्रिमंडल में हुए फेरबदल में कई युवाओं को मंत्री बनाने के बाद अब केंद्र सरकार की कई महत्वपूर्ण कमिटियों में भी युवा केंद्रीय मंत्रियों को जगह दी गई है। भूपेंद्र यादव, ज्योतिरादित्य सिंधिया, सर्वानंद सोनोवाल को केंद्र की महत्वपूर्ण 8 कमिटियों में जगह दी गई है। पर्यावरण और श्रम मंत्री भूपेंद्र यादव को केंद्र सरकार की अति महत्वपूर्ण समिति सीसीपीए यानी राजनीतिक मामलों की केंद्रीय समिति में जगह मिली है। उनके साथ ही पोर्ट मिनिस्टर सर्वानंद सोनोवाल, स्वास्थ्य मंत्री मनसुख मंडाविया, ग्रामीण विकास मंत्री गिरिराज सिंह को शामिल किया गया है। इससे पहले इस कमिटी में भूपेंद्र यादव और सर्वानंद सोनोवाल से पहले के उनके डिपार्टमेंट के मंत्री को सीसीपीए का हिस्सा नहीं रखा गया था। इसके अलावा एक और महत्वपूर्ण फैसला महिला और बाल विकास मंत्री स्मृति ईरानी को लेकर भी किया गया है। उन्हें भी इस बार पहली बार सीसीपीए में शामिल किया गया है।

सभी 8 कमिटियों में पीएम मोदी के अलावा गृहमंत्री अमित शाह पहले की तरह शामिल

सभी 8 कमिटियों में प्रधानमंत्री मोदी के अलावा गृहमंत्री अमित शाह पहले की तरह शामिल हैं। रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह को 6 कमिटियों में रखा गया है। राजनाथ सिंह को सिर्फ 2 कमिटियों का हिस्सा नहीं बनाया गया है। राजनाथ सिंह कैबिनेट कमिटी ऑन अपॉइंटमेंट और कैबिनेट कमिटी ऑन एकोमोडेशन को छोड़ सिंह सभी समितियों में हैं। वहीं वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण को 7 कमिटियों में जगह दी गई है। उन्हें सिर्फ कैबिनेट कमिटी ऑन अपॉइंटमेंट में नहीं रखा गया है। इसके अलावा नवनियुक्त केंद्रीय मंत्री अश्विनी वैष्णव को भी एक कमिटी में स्थान मिला है। उन्हें स्किल डिवेलपमेंट और रोजगार से संबंधित समिति में जगह मिली है। इसके अलावा सूचना प्रसारण मंत्री अनुराग ठाकुर को भी पहली बार संसदीय मामलों की समिति में जगह मिली है।

यानी एक तरफ मोदी जी हैं जो संसद की समितियां हो या मंत्री पद वहां उन लोगों को आगे ला रहे हैं जो युवा है तो दूसरी तरफ उनपर सियासी वार करने वाले हैं जो अभी तक यही नहीं तय कर पा रहे हैं कि आने वाले दिनो में वो दल की जिम्मेदारी किसे दें। लेकिन जिस तरह से युवाओं या अगली पीढ़ी को मोदी सरकार तैयार कर रहे हैं उससे यही बोला जा सकता है कि मोदी जी की टीम में बस काम को महत्व दिया जाता है और जो इसमें आगे होता है वही आगे बढ़ता है।