पीएम की अपील का असर नई नवेली दुल्हन भी वोट देने पहुंची

दुनिया के सबसे बड़े लोकतंत्र भारत में चुनावी समर पूरे सबाब पर है.. हर कोई इस महा-हवन में हिस्सा लेने के लिये आतुर है, जिसकी झलक मतदान के दौरान साफ देखी जा रहा है। क्या बुजुर्ग हो या युवा सभी इस पर्व मे अपना योगदान देने मे लगे है। कश्मीर से कन्याकुमारी तक हर तरफ सिर्फ इसकी झलक देखी जा सकती है|

नई_नवेली_दुल्हन

लोकतंत्र का रंग सिर चढ़कर बोल रहा है

लोकतंत्र का ये रंग भी सिर्फ भारत मे ही देखने को मिलता है जहा हर वो आमोखास आदमी हो या फिर गरीब, सभी बढ़चढ़ कर हिस्सा लेते है फिर वो शादी कर रहे नये नवेले दुल्हे या दुल्हन ही क्यों न हो| “पहले वोट फिर दूसरा काम” पीएम मोदी की इस अपील पर सबसे पहले वोट देना ही अपना धर्म समझने वाली जनता घरो से निकल जाती है। जिसका असर ये हुआ कि वोटिंग की कतार में नवेली दुल्हन देखी जा रही है। शादी करने जा रही इन जोड़ियो ने कहा कि वो वोट डालने नही आते लेकिन पीएम की अपील ने उनके दिलों मे देश के प्रति उनकी जिम्मेदारी का बोध करवाया और उसका ही असर है कि वो आज शादी होने के बाद भी वोट डालने के लिये पहले निकले है।

Women voter

वोट देने के लिये हर वर्ग मे जोश

इतना ही नही, शरीर से लाचार बुजुर्ग महिला को उसके परिवार वाले वोट डालने लाते है कि उनके एक वोट से देश मे नई नीति वाली सरकार बनेगी जो देश के हित के लिये काम करेगी। युवाओं मे भी सबसे ज्यादा जोश इसबार देखा जा रहा है। क्योकि वो अच्छी तरह जानते है कि लोकतंत्र मे उनका एक वोट आने वाले कल को तो बेहतर बनायेगा ही साथ ही देश को समूचे विश्व मे शिखर पर पहुंचायेगा। यही वजह है कि वो वोट करने के लिये आतुर है।

इससे सिर्फ यही लबोलुबाब निकलता है कि देश का लोकतंत्र कितना मजबूत है कि उसे कश्मीर के आंतकियों या देश के दूसरे राज्यों के नक्सलियों की बंदूकें भी नही रोक पा रही है। यही बात देश को मजबूत बनाती है और दुनिया के दूसरे देशों से ताकतवर भी जिसपर हमे मान है।