पीएम मोदी से बात कर गदगद हुए पैरालंपिक खिलाड़ी, बोले ‘’ऐसा सम्मान किसी ने नहीं दिया’’

पीएम नरेंद्र मोदी ने हाल ही में 9 सितंबर को भारतीय पैरा एथलीटों से अपने आवास पर मुलाकात की थी। इस दौरान खिलाड़ियों ने पीएम मोदी से अपने अनुभव साझा किए। इसी महीने सपन्न हुए टोक्यो पैरालंपिक में भारतीय एथलीटों ने शानदार प्रदर्शन करते हुए इतिहास रचा था। खेलों के इस महाकुंभ में भारत के पैरा एथलीटों ने 19 पदक जीते थे जिनमें पांच गोल्ड मेडल थे। प्रधानमंत्री से मुलाकात के दौरान बातचीत करते हुए कई खिलाड़ी भावुक हो गए। इन एथलीटों ने कहा कि आज तक ऐसा सम्मान किसी ने नहीं दिया।

Image

आज तक नहीं मिला ऐसा सम्मान

प्रधानमंत्री से मुलाकात के दौरान कई पैरा एथलीट बहुत भावुक हो गए। पीएम मोदी ने उनका मनोबल बढ़ाते हुए कहा कि आप लोगों ने बहुत परिश्रम किया है। इस दौरान खिलाड़ियों ने कहा कि आपने पांच दिन में हमारे खेल को जन-जन तक पहुंचा दिया ऐसा आज तक देश के किसी भी प्रधानमंत्री ने नहीं किया। वहीं पैरालंपिक में मेडल लाने से चूक गए एथलीटों ने प्रधानमंत्री से वादा किया कि अगली बार जब आप से मिलेंगे तो मेडल भी साथ होगा। पीएम ने कहा कि जिद का अपना महत्व होता है, इस बार जो कमी रह गई उसे बोझ मत बनने देना।

जिस घर का मुखिया तगड़ा होगा उस घर की प्रगति कोई रोक ही नहीं सकता 

इस दौरान पैरालंपिक खिलाडियों के दल में आये खिलाड़ी संदीप चौधरी ने पीएम मोदी की तारीफ करते हुए बोला कि आज आप के चलते देश का मान सारी दुनिया में बढ़ रहा है। उन्होंने बोला देश का मुखिया तगड़ा है इसलिये तो घर की प्रगति तेजी से हो रही है। इतना ही नही नोएडा के डीएम सुभाष ने अपनी बात रखते हुए पीएम मोदी को बताया कि बचपन में दिव्यांग होने के चलते उनको गांव के स्कूल में दाखिला नही मिला था, हालांकि आज वो देश के पीएम के साथ बैठे हैं। वही देवेंद्र झाझरिया ने बताया कि देश में  बस इतना परिवर्तन हुआ है कि पहले पैरालंपिक में जाने के लिये उन्हें अपने मां के गहने बेचने पड़े थे जबकि अब सरकार की तरफ से सारी मदद मिल रही है। इस दौरान पीएम ने भी अपने मन की बात सामने रखी और बताया कि आप जैसे खिलाड़ियो से बहुत कुछ सीखने को मिलता है और आप से मुझे प्रेरणा मिलती है।

इस बार ओलंपिक खिलाड़ी हो या फिर पैरालंपिक खिलाड़ी जिस तरह से देश ने पलकें बिछाकर उनका स्वागत किया है उससे तो ये साफ पता चलता है कि सच में आज देश पूरी तरह से बदल चुका है।

 

Leave a Reply