पाक के कबूलनामे से विश्व में भारत का पक्ष हुआ मजबूत

आतंकवाद को समर्थन देने के मुद्दे पर बार बार अंतरराष्ट्रीय बिरादरी के सामने पाकिस्तान बेनकाब होता रहा है। लेकिन इस बार खुद पीएम इमरान खान के मंत्रिमंडल के एक महत्वपूर्ण मंत्री ने भारत के पुलवामा में आत्मघाती हमला करवाने की जिम्मेदारी ले ली है। जिससे अब ये साफ हो गया है कि पाकिस्तान ही वो देश है जो भारत में दहशतगर्दों को भेजता है।

दो दिनों में दो बार हुई इमरान खान सरकार की किरकिरी

दो दिन में जिस तरह से पाक के नेताओं के बयान आये है उससे साफ होता है कि पाकिस्तान ही वो देश है जो भारत में आतंकवाद को बढ़ावा देने का काम कर रहा है। इमरान कैबिनेट में विज्ञान व तकनीकी मंत्री फवाद चौधरी ने पाकिस्तान के संसद में एक चर्चा के दौरान पुलवामा हमले को इमरान खान सरकार की एक बड़ी उपलब्धि बताई है। भारत पहले से ही यह आरोप लगाता रहा है कि पुलवामा हमला पूरी तरह से पाकिस्तान प्रायोजित था। पाकिस्तान के राजनीतिक परिदृश्य में पिछले दो दिनों से भारत के साथ बालाकोट व पुलवामा से जुडे मुद्दे छाये हुए हैं। उससे पहले विपक्षी पार्टी के एक नेता ने पाक की सरकार की पोल खोली थी कि कैसे अभिनंदन की रिहाई के वक्त मोदी सरकार ने पाक को डर लग रहा था पाक के विपक्ष के नेता सादिक रजा ने कहा था कि, ”बालाकोट के बाद बुलाई गई राजनीतिक बैठक में  आर्मी चीफ बाजवा     के पैर कांप रहे थे। कुरैशी ने बताया कि अगर रात नौ बजे तक भारतीय वायुसेना के पायलट अभिनंदन को नहीं छोड़ा गया तो भारत हमला कर देगा।” जिसके बाद समूचे विश्व में पाक की हकीकत सामने आ गई है। कि आखिर पाक कैसे भारत में दहशत को बढ़ावा दे रहे है।

विश्व के मंच में फसे इमरान

विश्व समुदाय की तरफ से पहले से ही कई तरह के प्रतिबंध झेल रहे पाक के लिये उनकी सरकार के मंत्री का ये बयान गले का फांस बनने वाला है क्योकि भारत इस बयान के बाद पाकिस्तान को विश्व के कई मंचो पर घेरने की तैयारी शुरू कर दी है। कयास लगाया जा रहा है कि FATF में ग्रे सूची में रहने के बाद अब भारत की कोशिश होगी कि वो इसे FTF की काली सूची में शामिल करवा सके। वही  अमेरिका ,यूरोप सहित अब कई मुस्लिम देश भी पाकिस्तान के खिलाफ खड़े दिख रहे है। इससे यही लगता है कि आने वाले दिनो में इमरान कान की मुश्किल और बढ़ने वाली है।

वैसे ये भी सबको पता है कि पाकिस्तान में ही लादेश मारा गया था वही आज भी गुलाम कश्मीर के कई इलाको में पाक सेना की मदद से आतंकी कैप चलाये जा रहे है। जो कश्मीर का माहौल बिगाड़ते है। लेकिन पाक के खुद कबूलनामे से अब विश्व समुदाय में भारत का पक्ष पहले से ज्यादा मजबूत हो गया है।