फिर भारतीय सीमा में घुस आया पाकिस्तानी ड्रोन, वायुसेना ने खदेड़ा

drone
सांकेतिक तस्वीर

पाकिस्तान ने एक बार फिर भारतीय सीमा में घुसपैठ करने की कोशिश है| पाकिस्तान अपने आदत से बाज न आते हुए बुधवार रात करीब 10.15 बजे खेमकरण सीमा से ड्रोन भेजा| हालाँकि, इसे भारतीय क्षेत्र में रडार ने पकड़ लिया और फिर सीमा पर चौकसी बढ़ा दी गई| रडार द्वारा सुचना मिलने के बाद में भारतीय वायुसेना ने ड्रोन को खदेड़ दिया| इस बीच तीन धमाकों की आवाज भी सुनी गई| जिसके बाद खेमकरण सेक्टर में ब्लैकआउट कर दिया गया। मालूम हो कि इससे पहले 1 अप्रैल की सुबह 3.30 बजे भी पाकिस्तान की ओर से एफ-16 विमान भारतीय सीमा में भेजे गए थे, जिसे वायुसेना ने खदेड़ दिया था।

पाकिस्‍तान की ओर से भेजा गया ड्रोन खेमकरण सेक्टर के रत्तोके गांव में लगाए गए रडार पर से देखा गया। जिसेक तुरंत बाद सेना और वायुसेना तुरंत ससजग हुई और पाकिस्‍तानी ड्रोन को खदेड़ने की कार्रवाई शुरू की। इस दौरान एक के बाद एक तीन धमाके भी हुए। इसके बाद ड्रोन पाकिस्तानी क्षेत्र में वापस लौट गया। हालाँकि, ड्रोन पाकिस्तान में सुरक्षित लौटा या नहीं, इस बात की पुष्टि नहीं हो पाई है।

इस बाबत घटना को लेकर गांव मैदीपुर, मस्तगढ़, राजुके, खेमकरण, गजल, तूत भंगाला, वुडबुडा आदि क्षेत्रों में एहतियात के तौर करीब डेढ़ घंटे तक ब्लैकआऊट कर दिया गया। गांव रत्तोके के सरपंच कुलबीर सिंह, माछीके के निवासी प्रताप सिंह ने इस सन्दर्भ में बताया कि उन्होंने तीन धमाकों की आवाज सुनी। इसके बाद बिजली गुल हो गई। इसके अलावा सम्बंधित इलाके में इन्टरनेट सेवाओ पर रोक लगाने की भी जानकारी सामने आई है|

बहरहाल, यह कोई पहला मामला नहीं है, जब भारतीय सीमा में कोई पाकिस्तानी ड्रोन घुस आया हो| इससे पहले भी पाकिस्तान द्वारा ऐसे कार्यो को अंजाम दिया जाता रहा है| उधर इस मसले के बाद खेमकरण सेक्टर में तैनात सेना की 77 बटालियन द्वारा इलाके में चौकसी बढ़ाई गई थी, जिस कारण ड्रोन को खदेड़ दिया गया। घटना की जानकारी मिलने के बाद स्थायी पुलिस समेत आला अफसर भी मौके पर पहुंचे लेकिन उन्हें डिफेन्स रेंज से आगे जाने से मना कर दिया गया| घटने के बाद से इलाके में सुरक्षा की चाक-चौबंद व्यवस्था की गयी है|