भारत द्वारा कारर्वाई की संभावना से सहमे पाकिस्तान ने संयुक्त राष्ट्र और सुरक्षा परिषद को लिखी चिठ्ठी

भारत के खिलाफ अपने कुकृत्यों और भारत विरोधी आतंकवाद को पोषित करने के चलते भारत द्वारा किसी बड़ी जवाबी कारर्वाई के दर से सहमे पाकिस्तान ने अब संयुक्त राष्ट्र और सुरक्षा परिषद को चिठ्ठी लिखी है|

विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी ने लिखी चिठ्ठी

पाकिस्तान के विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी ने संयुक्त राष्ट्र के महासचिव एंटोनियो गुतेरेस और सुरक्षा परिषद के अध्यक्ष केली क्राफ्ट को चिठ्ठी लिख कर भारत से खतरे के बारे में बताया है| अपनी साप्ताहिक प्रेस ब्रीफिंग में पाकिस्तान विदेश मंत्रालय की प्रवक्ता आएशा फारूकी ने इसके बारे में बताया| फारूकी ने कहा, “हमने अपनी चिंताओं और डर को अंतरराष्ट्रीय संस्थाओं के साथ-साथ अपने दोस्तों के साथ साझा किया है।”

अपनी चिठ्ठी में पाकिस्तान के विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी ने विस्तार से लिखा है कि नियंत्रण रेखा पर भारतीय सैनिकों की तैनाती और संघर्षविराम उल्लंघन की लगातार बढ़ती घटनाओं ने पाकिस्तान के लिए खतरा पैदा कर दिया है।

बेशर्म पाकिस्तान ने साल 2019 में 3200 बार किया संघर्षविराम का उल्लंघन

पाकिस्तानी विदेश मंत्री द्वारा संघर्षविराम उल्लंघन का जिक्र “उल्टा चोर कोतवाल को डांटे” वाली कहावत को चरितार्थ कर रहा है| उल्लेखनीय है कि भारत और पाकिस्तान की सीमा पर संघर्षविराम उल्लंघन की घटनाएँ पाकिस्तान की तरफ से हो रही है| आपको बता दें कि पिछले कुछ दिनों में सबसे ज्यादा पाकिस्तान की तरफ सीजफायर का उल्लंघन हुआ है और इसमें कई आम नागरिकों की भी मौत हुई है।

कुछ दिनों पहले की एक खबर में IndiaFirst ने अपने पाठकों को बताया था कि पाकिस्तान द्वारा साल 2019 में संघर्षविराम उल्लंघन की 3200 से ज्यादा वारदातें हुई है| जिसमे नियंत्रण रेखा पर सैकड़ों आम नागरिक मौत के शिकार हुए हैं| अब तक इन घटनाओं में भारतीय सेना के कुल 41 जवान शहीद हुए हैं, और अब तक 158 आतंकी मारे जा चुके हैं| हाँ अब मोदी राज में ये परिवर्तन जरुर हुआ है कि भारतीय सेना अब सिर्फ मूकदर्शक बनकर बैठी नहीं रहती और पाकिस्तान की हर नापाक हरकत का मुंहतोड़ जवाब देती है|

हाल के दिनों में पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान कई बार आरोप लगाते रहे हैं कि “भारत में नागरिकता कानून व एनआरसी जैसे मुद्दों के खिलाफ चल रहे प्रदर्शनों से ध्यान हटाने के लिए भारत कोई फॉल्स फ्लैग ऑपरेशन कर सकता है। इमरान का इशारा खास कर POK में सेना द्वारा किसी कारर्वाई की सम्भावना तरफ था|“