दो दिन के दौरे पर सऊदी अरब जा रहे हैं पीएम मोदी के लिए पाकिस्तान ने अपना एयरस्पेस खोलने से किया इनकार

  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

सऊदी प्रिंस मोहम्मद बिन सलमान और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (फाइल फोटो)

सऊदी राजा सलमान बिन अब्दुल एज़ीज़ अल साउद के न्यौते पर भारत के प्रधानमंत्री मोदी आज से दो दिन की सऊदी अरब की यात्रा पर जा रहे है और आशा की जा रही है कि इस दौरे पर उर्जा और वित्त क्षेत्र में संबंध मज़बूत करने पर ज़ोर दिया जायेगा।

मोदी की यात्रा के बारे में पत्रकारों को संबोधित करते हुए विदेश मंत्रालय में सचिव (आर्थिक संबंध) टी एस तिरुमूर्ति ने बताया कि दोनों पक्ष रक्षा तथा सुरक्षा सहयोग बढ़ाने पर भी चर्चा करेंगे। उन्होंने कहा कि दोनों देशों के बीच पहला नौसैन्य अभ्यास इस साल के अंत तक या अगले साल के आरंभ में होगा।

मोदी यहां सऊदी क्राउन प्रिंस मोहम्मजद बिन सलमान से वार्ता करने के अलावा रुपे कार्ड को भी लॉन्च करेंगे। इसके अलावा मोदी रियाद में मंगलवार को फ्यूचर इंवेस्टमेंट इनिशियेटिव (एफआईआई) के तीसरे सत्र में भाग लेंगे और कीनोट भाषण देंगे। उनकी इस यात्रा में उनकी कई मंत्रियों से मुलाकातें भी शामिल है।

एफआईआई को रेगिस्तान का डावोस कहा जाता है और इसका 2017 से आयोजन किया जा रहा है। इसका मकसद सऊदी में निवेश बढ़ाने के लिए प्रोत्साहन देना है।

इस समय मोदी की सऊदी यात्रा इसलिए भी महत्वपूर्ण है क्योकि ये कश्मीर में अनुच्छेद 370 के हटाने और भारत और पाकिस्तान के बीच बढ़े हुए तनाव के परिपेक्ष्य में हो रही है।

पाकिस्तान ने एयरस्पेस इस्तेमाल की नहीं दी अनुमति

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की सऊदी अरब की यात्रा के लिए पाकिस्तान ने एक बार फिर अपने एयरस्पेस का उपयोग करने की अनुमति नहीं दी है। पाकिस्तान ने रविवार को कहा कि उसने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के विशेष विमान को अपने हवाई क्षेत्र से गुजरने देने के भारत के आग्रह को ठुकरा दिया है। पाकिस्तान के इस निर्णय से भारत ने कड़ी आपत्ति जताई है और पाकिस्तान के इस रवैये को अंतराष्ट्रीय सिविल एविएशन आर्गेनाइजेशन से शिकायत करने की तैयारी में है। सूत्रों के अनुसार विमान को एयरस्पेस से उडऩे की अनुमति मांगी जाती है और इसकी अनुमति संबधित देश आईसीएओ के निर्धारित नियमों के अनुसार देते हैं।

‘रेडियो पाकिस्तान’ के अनुसार पाकिस्तानी विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी ने एक बयान में कहा कि यह फैसला किया गया है कि प्रधानमंत्री मोदी के विमान को पाकिस्तान के हवाई क्षेत्र का इस्तेमाल करने की अनुमति नहीं दी जाएगी।

कुरैशी ने कहा कि जम्मू-कश्मीर में मानवाधिकार के कथित उल्लंघन और ‘काला दिवस’ के मद्देनजर यह फैसला किया गया है।

पिछले महीने भी किया था इनकार

कुरैशी ने कहा कि भारतीय उच्चायोग को इस फैसले के बारे में लिखित रूप से सूचित किया जा रहा है। पिछले महीने भी पाकिस्तान ने प्रधानमंत्री मोदी के विमान के अपने हवाई क्षेत्र से गुजरने की इजाजत देने से इनकार कर दिया था। उस वक्त मोदी संयुक्त राष्ट्र महासभा की बैठक के लिए जा रहे थे। पाकिस्तान ने पिछले महीने राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद के विमान को भी अपने हवाई क्षेत्र के इस्तेमाल की इजाजत देने से मना किया था। उस वक्त राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद आइसलैंड, स्विटजरलैंड और स्लोवेनिया के दौरे पर गए थे।

 


  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •