अंतर्राष्ट्रीय दबाव में पाकिस्तान ने हाफ़िज़ सईद समेत 12 पर किया केस दर्ज

filed a case against 12 including Hafeez Saeed under international pressure

एक तरफ जहाँ भारतीय सेना आतंकियों को ख़त्म करने के अपने मिशन को अंजाम दे रही है वहीँ दूसरी तरफ PM मोदी की लगातार कोशिशों से पाकिस्तान पर आतंकी संगठनों के खिलाफ कार्रवाई करने  के लिए अंतरराष्ट्रीय दबाव बढ़ता जा रहा है| इसका नतीजा बीते बुधवार को देखने को मिला जब पाकिस्तान ने जमात उद दावा के प्रमुख हाफिज सईद समेत 12 सहयोगियों के खिलाफ आतंकी फंडिंग के 23 मामले दर्ज किए|

जानकारी देते हुए पाकिस्तान के एक आतंकरोधी विभाग ने कहा कि आतंक फंडिंग के लिए कुल पांच ट्रस्टों का इस्तेमाल करने को लेकर हाफिज सईद पर मामला दर्ज किया गया है| इस मामले के अंतर्गत लश्कर ए तैयबा से जुड़े जमात उद दावा और फलाह ए इंसानियत फाउंडेशन को भी निशाने पर लिया गया है| आगे की कारर्वाई में आरोपियों और संगठनों की सभी संपत्तियों को फ्रीज कर दिया जाएगा जिसे बाद में सरकार अपने कब्जे में ले लेगी|

मुद्दे की बात यह है की पाकिस्तान सरकार बिना किसी दबाव के तो आतंकियों पर इतनी बड़ी कारर्वाई नहीं कर सकती| माना जा रहा है कि पाकिस्तान सरकार ने यह कदम फाइनेंशियल एक्शन टास्क फोर्स (एफएटीएफ) द्वारा दिए गए दबाव के बाद उठाया है|

आपको बता दें कि पिछले साल पाकिस्तान को मनी लॉन्ड्रिंग और आतंकी फंडिंग के मामलों में आधी-अधूरी कारवाई करने के वजह से एफएटीएफ ने ग्रे-लिस्ट में डाल दिया था, और अब पाकिस्तान को धमकी मिल रही है कि अगर उसने आतंकी फंडिंग के खिलाफ अपनी कारर्वाई में तेजी नहीं दिखाई तो उसे ब्लैक लिस्ट में भी डाला जा सकता है| 

कौन है हाफ़िज़ सईद ?

आतंक का आका कहे जाने वाले हाफिज सईद का एक ही सपना है- पूरी दुनिया में आतंक का खौफ कायम करना| हाफिज सईद आतंकी संगठन लश्कर-ए-तैयबा का संस्थापक है जो वर्तमान समय में  पाकिस्तान में जमात उद दावा नामक संगठन को संचालित करता है| भारत में कई ऐसे आतंकी हमले हुए है जिनका सूत्रधार हाफिज सईद को माना जाता है| हाफिज सईद को एनआइए की मोस्ट वांटेड सूची में भी शामिल किया गया है| भारत सहित अमेरिका, ब्रिटेन, यूरोपीय संघ, रूस और ऑस्ट्रेलिया ने इसके दोनों संगठनों को प्रतिबंधित कर रखा है यहीं नहीं इसके सिर पर एक करोड़ डॉलर का इनाम भी रखा गया है|

गौरतलब है कि अंतर्राष्ट्रीय और एफएटीएफ के दबाव में आकर पाकिस्तान ने हाफिज सईद पर आतंक फंडिंग मामला तो दर्ज कर दिया पर इसके आगे की करवाई में वो इन आरोपियों के खिलाफ क्या कदम उठाता है ये गौर करने वाली बात होगी|