सोशल डिस्‍टेंसिंग की धज्जियाँ उड़ाकर फँस गये पाकिस्तानी राष्ट्रपति

एक तो पाकिस्तान की हालत कोरोना वायरस की मार से वैसे ही ख़राब है, उपर से उसके नेता भी सुधरने का नाम  नहीं ले रहे | पाकिस्तान के आम लोग तो छोडिये खुद राष्ट्रपति भी सरकार की बात मानने को तैयार नही हैं | पाक राष्ट्रपति आरिफ अल्वी सोशल डिस्टेंसिंग की जमकर धज्जियां उड़ा रहे हैं | वह भी तब कुछ दिनों पहले ही उन्‍होंने पाकिस्‍तानी मौलानाओं के साथ बैठककर लोगों से अकेले में नमाज पढ़ने की अपील की थी।

पाकिस्‍तानी राष्‍ट्रपति के भीड़ के साथ नमाज पढ़ने की सोशल मीडिया में जमकर आलोचना हो रही है। इससे पहले पाकिस्‍तानी राष्‍ट्रपति अल्‍वी एन95 मास्‍क पहनने पर डॉक्‍टरों के निशाने पर आ गए थे। दरअसल, पाकिस्तान में कोरोना वायरस के चलते न सिर्फ आम लोगों के लिए हालात चिंताजनक हैं, बल्कि इलाज में दिन-रात मेहनत कर रहे डॉक्टरों तक को सेफ्टी इक्विपमेंट तक नहीं मिल रहे हैं।

आरिफ अल्वी को नाराजगी का शिकार इसलिए भी होना पड़ रहा है क्योंकि सरकार ने निर्देश जारी किए थे कि ये मास्क सिर्फ उन मेडिकल स्टाफ के लिए हैं जो क्वारंटीन सेंटर्स और आइसोलेशन वॉर्ड्स में जाते हैं। यहां तक कि दूसरे डॉक्टर भी इन मास्क को नहीं पहन सकते। ऐसे में एक बैठक के दौरान अल्वी के मास्क पहनने पर डॉक्टर सवाल खड़े करने लगे। पाकिस्तान मेडिकल असोसिएशन ने बिना अल्वी का नाम लिए बयान जारी किया कि आजकल नेता और नौकरशाह बैठकों और दौरों पर N-95 मास्क पहनते हैं, जबकि मेडकिल स्टाफ के सामने मास्क और सुरक्षा उपकरणों की कमी है।

कोरोना वायरस संक्रमण के मामले बढ़कर 4,788

इसके बाद अल्‍वी ने सफाई दी कि यह मास्‍क उन्‍हें चीन यात्रा के दौरान वहां की सरकार ने दिया था। उसे ही वह अ‍ब तक पहन रहे हैं। इस बीच पाकिस्तान में कोरोना वायरस संक्रमण के मामले बढ़ कर 4,788 हो गए हैं। महासंकट की इस घड़ी में चीन महामारी से निजात पाने के लिए अपने मित्र देश को और चिकित्सा सहायता भेज रहा है। देश में अब तक संक्रमण से 71 लोगों की मौत हो चुकी है।

राष्ट्रीय स्वास्थ्य सेवा मंत्रालय ने अपनी बेवसाइट में जानकारी दी कि पिछले 24 घंटे में संक्रमण से पांच लोगों की मौत हो चुकी है। शनिवार को कुल मामलों की संख्या बढ़ कर 4,788 हो गई जिनमें संक्रमण के 190 नए मामले हैं। अब तक 71 लोगों की मौत हो चुकी है। पचास लोगों की हालत नाजुक है वहीं 762 लोग संक्रमण से ठीक हो चुके हैं। आंकड़ों के अनुसार पंजाब में 2,336 ,सिंध में 1,214 ,खैबर-पख्तुनख्वा में 656 ,बलोचिस्तान में 220 ,गिलगित-बाल्टिस्तान में 215 ,इस्लामाबाद में 215 और पाकिस्तान के कब्जे वाले कश्मीर में संक्रमण के 34 मामले हैं।