मोदी के सीएम बनने से लेकर पीएम बनने तक जीत की पटकथा लिखने वाले ओम माथुर

  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

Om_Mathur_With_Pm_Modi

कहा जाता है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को जब भी कोई खास मुकाम हासिल करने का सपना देखते हैं तो वो दो ही लोगों से मदद लेते हैं। जिसमे से एक नाम है, ओम प्रकाश माथुर का| ओम प्रकाश माथुर उन चुनिंदा लोगों में से हैं, जिन्होंने देशभर में बीजेपी को प्रचंड जीत दिलाने में अहम भूमिका निभाई है| कहा यह भी जाता है कि ओम प्रकाश माथुर ही वो शख्सियत है जिन्होंने गुजरात के मुख्यमंत्री से लेकर देश के प्रधानमंत्री बनने तक नरेंद्र मोदी की सफलता की पटकथा  लिखी है|

वो साल था 2007, जब नरेंद्र मोदी गुजरात में अपनी स्थिति मजबूत करना चाहते थे तो उन्होंने हिंदुत्व अजेंडे से विकास की ओर रुख कर लिया| इसके बाद 2012 में मोदी ने गुजरात में दोबारा से खुद को मजबूत करने के लिए गुजरात मॉडल की कल्पना की जिसने उन्हें 2014 में पीएम रेस का दावेदार बना दिया| इन सभी सियासी रणनीतियों में नरेंद्र मोदी के बायें हाथ कहे जाने वाले और आरएसएस के पूर्व प्रचारक ओम प्रकाश माथुर ने उनका बखूबी साथ दिया था| 70 के आखिरी दशक में जब नरेंद्र मोदी और ओम प्रकाश की मुलाक़ात हुई थी| तभी से दोनों एक-दुसरे के संपर्क में बने हुए थे|

मध्य प्रदेश, यूपी से लेकर महाराष्ट्र तक में लिखी जीत की पटकथा

Om_Mathur

ओम प्रकाश माथुर कहते है कि, ‘तब हम दोनों आरएसएस में एक ही पोजिशन में थे। वह 1986 में बीजेपी में शामिल हुए और मैं ढाई साल बाद। हम दोनों ही आरएसएस कैंप और बीजेपी की ट्रेनिंग में साथ-साथ रहे थे। हमारे बीच अच्छे संबंध हैं।’ देशभर में बीजेपी की जीत की स्क्रिप्ट लिखने वाले ओम माथुर ने 2003 में मध्य प्रदेश में दिग्विजय सिंह को गद्दी से उतारकर उमा भारती को मुख्यमंत्री बनाने में अहम भूमिका निभाई थी। इसके बाद 2014 में उन्होंने बीजेपी को महाराष्ट्र का किला फतह कराया और देवेंद्र फडणवीस के सर मुख्यमत्री का ताज सजवाने में महती भूमिका निभाई|

मोदी जानते थे कि प्रधानमंत्री बनने की इच्छा को पूरा करने के लिए दिल्ली का रास्ता यूपी से पार करना जरूरी है इसलिए 2014 लोकसभा चुनाव में यूपी को जातिगत गणित, सोशल इंजिनियरिंग और मतदाताओं के गणित में माहिर ओम माथुर के हवाले किया गया जहां एनडीए ने 80 में से 73 सीटों पर रेकॉर्ड जीत दर्ज की थी।

‘लोगों को मोदी पर यकीन है’

ओम प्रकाश माथुर मानते है कि गुजरात में अब कोई मुद्दा नहीं रह गया है। नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में वहां काफी विकास हुआ है और यह चुनाव सिर्फ एक औपचारिकता है। यूपी में एसपी-बीएसपी के गठबंधन पर उन्होंने कहा, ‘यह पहली बार नहीं है। इससे पहले राहुल गांधी और अखिलेश यादव ने भी एक ही साइकल पर सवार होने की कोशिश की थी। अब एक हाथी साइकल की सवारी की कोशिश कर रहा है। देश यह सोप-ओपेरा देख रहा है। लोगों को मोदी पर यकीन है।’

‘मोदी ने बिचौलियों को खत्म किया है’

ओम प्रकाश माथुर आगे जोड़ते है कि, ‘लोग जानते हैं कि वह जो वादे करते हैं उसे पूरा करते हैं। वह ईमानदार हैं। मैं खाता भी नहीं हूं और खाने देता भी नहीं हूं, यह उनका सिद्धांत हैं। डेयरी से लेकर व्यापार क्षेत्र तक उन्होंने बिचौलियों को खत्म किया है। गरीब यह बात समझता है।’ कांग्रेस के लिए उन्होंने कहा, ‘उनके पास सिर्फ नेता हैं। हमारे पास पेज प्रमुख हैं जो पार्टी के लिए जमीनी स्तर पर आधार तय करते हैं। हम 65 हजार के साथ प्रत्यक्ष रूप से संपर्क में हैं।’


  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •